tilak verma

Tilak Verma: 13 फरवरी को आईपीएल 2022 के मेगा ऑक्शन का आखिरी दिन था। ऑक्शन में कई खिलाड़ी करोड़पति बने तो कई डबल डिजिट में खरीदे गए। इन करोड़पति खिलाड़ियों में से एक ऐसा खिलाड़ी भी है जिसके पिता इलेक्ट्रीशियन हैं और वह अपने बेटे की क्रिकेट की जरूरतों को पूरा करने में विफल रहे, तो उसके सभी खर्चों का ध्यान रखने और उससे बढ़ाने के लिये एक कोच आगे आया। हम बात कर रहे हैं 2020 में अंडर-19 टीम का हिस्सा रह चुके Tilak Verma की।

Tilak Verma ने कोच को दिया श्रेय

tilak verma

19 वर्षीय Tilak Verma को इंडियन प्रीमियर लीग 2022 के मेगा ऑक्शन के दूसरे दिन में मुंबई इंडियंस ने 1.7 करोड़ रुपये देकरअपनी टीम में शामिल कर लिया है। तिलक के इलेक्ट्रीशियन पिता अपने बेटे की क्रिकेट की जरूरतों को पूरा करने में विफल रहे, तो उसके सभी खर्चों का ध्यान रखने और उन्हें आगे बढ़ाने के लिये एक कोच आगे आया। नौ साल का बच्चा जो कभी  हैदराबाद के चंद्रयानगुट्टा इलाके की गलियों में खेला करता था और जिसका स्टांस, कट और पुल शॉट आकर्षक है, वह अब मुंबई इंडियंस की तरफ से आईपीएल के मैदान में खेलेते हुए दिखेगा।

तिलक ने इस मुकाम पर पहुंचाने का श्रेय अपने कोच सलाम बायश को दिया, जिन्होंने उन्हें जरूरी साजो सामान और कोचिंग के अलावा भोजन और जरूरत पड़ने पर अपने घर में रहने के लिये भी जगह दी। वर्मा के पिता नम्बूरी नागराजू अपने बेटे को क्रिकेट अकादमी भेजने की स्थिति में नहीं थे लेकिन सलाम ने उसके सभी खर्चों को उठाया, जिसके दम पर आज वह इस मुकाम पर पहुंचा। वर्मा ने समाचार एजेंसी पीटीआई से कहा,

‘‘मेरे बारे में भले ही ना लिखो लेकिन मेरे कोच सर का जिक्र जरूर करना। उन्होंने मुझे क्रिकेट का सामान लाकर दिया और मेरे कई खर्चों को उठाया। इसलिए मैं जो कुछ भी हूं उनकी बदौलत हूं और मेरे परिवार का भी साथ इसमें रहा। ”

मुंबई इंडियंस में शामिल होने के बाद Tilak Verma का बयान

tilak verma

Tilak Verma ने तीन साल पहले अपना रणजी ट्रॉफी डेब्यू किया था। आपको बता दें कि, तिलक 2020 में भारत की अंडर-19 का हिस्सा थे। हालांकि टीम फाइनल में पहुंची थी लेकिन जीत नहीं पाई थी। उन्होंने दो मैच खेले थे और 38, 48 रन बनाए थे। आईपीएल में तिलक का चयन होने के बाद उन्होंने कहा,

“मुझे भरोसा था कि मैं आईपीएल खेलूंगा लेकिन इतने पैसे मिलेंगे ये नहीं सोचा था। मैं जिस टीम को सबसे ज्यादा प्यार करता हूं उसके साथ खेलना सपने के सच होने जैसा है। इससे मुझे महान खिलाड़ियों के साथ खेलने और अपने खेल को सुधारने का मौका मिलेगा। ”