Prev1 of 3
Use your ← → (arrow) keys to browse

क्रिकेट में हर मैच के साथ ही कुछ ना कुछ रिकॉर्ड भी टूट ही जाता है, क्रिकेट की शुरुआत में टेस्ट क्रिकेट का बहुत बोल बाला था, लेकिन वनडे और टी 20 के आते ही इसका रोमांच कम हो गया. टेस्ट मैच ने क्रिकेट को काफी रोमांचकारी क्षण दिए हैं, टेस्ट क्रिकेट ने अपने 142 वर्षों के सफ़र में बहुत कुछ ख़ास मौके दिए हैं, जैसे बॉडी-लाइन सीरीज़, बल्ले से ब्रैडमैन का जादू, वेस्टइंडीज़ द्वारा क्रिकेट में वर्चस्व, एशेज की लड़ाई.

अब आईसीसी ने टेस्ट क्रिकेट के रोमांच को बरकरार रखने के लिए, एक बार फिर विश्व टेस्ट चैंपियनशिप का आगाज किया गया है, जिसका फाइनल 2021 में खेला जाएगा. इतिहास में बल्लेबाजी के कई रिकॉर्ड बने हैं, जिन्हें तोड़कर फिर से नए रिकॉर्ड बनाए गए हैं, वही कुछ ऐसे हैं जिनको तोड़ना मुश्किल है.

आज हम आपको अपने इस आर्टिकल में ऐसे ही तीन खिलाड़ियों के रिकार्ड्स के बारे में बताने वाले हैं जिन्हें तोड़ना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन हैं.

3. टेस्ट क्रिकेट में सर डोनाल्ड ब्रैडमैन की औसत 

टेस्ट क्रिकेट

सर डोनाल्ड ब्रैडमैन जिन्हें अक्सर “द डॉन” के रूप में जाना जाता था. वह एक ऑस्ट्रेलियाई अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेटर थे, जिन्हें व्यापक रूप से सर्वकालिक महान बल्लेबाज के रूप में जाना जाता है. ब्रैडमैन ने अपने करियर की 99.94 की औसत बल्लेबाजी की है, यह किसी भी बड़े खेल में सबसे बड़ी उपलब्धि के रूप में मानी जाती है.

युवा ब्रैडमैन ने क्रिकेट स्टंप और गोल्फ की गेंद के साथ अकेले अभ्यास किया, यह कहानी ऑस्ट्रेलियाई लोककथाओं का हिस्सा है. ब्रैडमैन को अपने 22 वें जन्मदिन से पहले, उन्होंने शीर्ष स्कोरिंग के लिए कई रिकॉर्ड बनाए, जिनमें से कुछ अभी भी बरकरार हैं.

इसी के साथ कोई भी खिलाड़ी सर ब्रैडमैन के 99.94 के औसत से बल्लेबाजी के रिकॉर्ड के आस पास भी नहीं दिखता है. उन्होंने जो 52 टेस्ट खेले, उनमें से ब्रैडमैन ने 29 शतक लगाए, जिसमें 12 दोहरे शतक और 2 तिहरे शतक शामिल थे.

Prev1 of 3
Use your ← → (arrow) keys to browse

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *