Prev1 of 5
Use your ← → (arrow) keys to browse

टी 20 फॉर्मेट के आने के बाद से फैंस इस फॉर्मेट को देखना काफी अधिक पसंद करते हैं। वैसे तो इसके कई कारण हैं कम वक्त में रिजल्ट मिल जाता है, बल्लेबाजों द्वारा बड़े-बड़े शॉट्स और मैदान पर रनों की बरसात होते देखने को मिलती हैं क्योंकि 20 ओवर के खेल में हर कोई चौकों-छक्कों की मदद से अपनी टीम के लिए अधिक से अधिक रन बनाने की कोशिश करते हैं।

भारत की घरेलू लीग इंडियन प्रीमियर लीग की बात करें तो विशेष रूप से इस प्लेटफॉर्म पर बहुत सारी भारतीय घरेलू प्रतिभाएं अपना अगला कदम उठाती हैं। उनके साथ-साथ अंतरराष्ट्रीय स्थापित खिलाड़ियों को भी अपने प्रदर्शनों की सूची का विस्तार करने का अवसर मिलता है।

इस लीग में खिलाड़ियों को फ्रेंचाइजी में खिलाड़ियों को मोटी रकम दी जाती है। लेकिन क्या जानते हैं कि कुछ ऐसे खिलाड़ी भी हैं जिन्होंने अपनी राष्ट्रीय टीम से खेलते हुए टी 20 विश्व कप में तो हिट हुए लेकिन आईपीएल में बुरी तरह फ्लॉप हो गए। तो आइए आज हम उन 5 खिलाड़ियों के बारे में बात करते हैं जो टी 20 विश्व कप में तो खूब चले लेकिन आईपीएल में नहीं चले…

        टी 20 विश्व कप जीत चुके यह 5 खिलाड़ी आईपीएल में हुए फ्लॉप

1-मार्लोन सैमुअल

वेस्टइंडीज के मार्लोन सैमुअल विंडीज की टीम के लिए हमेशा से एक मुख्य खिलाड़ी रहे हैं। टीम के मिडिल ऑर्डर को मजबूती देने वाले इस खिलाड़ी ने टीम को कई बार अकेले के दम पर जीत दिलाई है। कैरेबियाई खिलाड़ी टी 20 फॉर्मेट में सबसे अधिक डिमांड में रहते हैं क्योंकि उनके पास विस्फोटक बल्लेबाजी होती है जो फ्रेंचाइजी के लिए जीत का शानदार फॉर्मूला है।

कैरेबियन खिलाड़ियों को उनकी पावर हिटिंग के लिए जाना जाता है। सैमुअल ने 2012 और 2016 विश्व कप में अहम पारियां खेली। वह देश के सबसे खतरनाक बल्लेबाजों में से एक रहे हैं।

2012 के वर्ल्ड कप टी 20 फाइनल में उनकी नाबाद 78 रन की पारी है जिसे लंबे समय तक याद किया जाएगा। यहां तक ​​कि 2016 में उन्होंने अकेले ही 85 के साथ खिताब बरकरार रखा।

इस विस्फोटक बल्लेबाज को आईपीएल में फ्रेंचाइजी की तरफ से कॉन्ट्रैक्ट तो मिला लेकिन वह यहां अपनी बल्लेबाजी का वह जलवा कायम नहीं रख पाए। खेले गए 8 मैचों में उन्होंने 100 की स्ट्राइक रेट से कुल 124 रन बनाए।

किसी औसत दर्जे के बल्लेबाज के लिए यह रन ठीक माने जा सकते थे लेकिन सैमुअल की क्षमता को देखते हुए यह आंकड़ा बेहद निराशाजनक रहा। फिर 2017 में उन्हें दिल्ली कैपिटल्स में शामिल किया लेकिन वहां उन्होंने 5 मैचों में 27 रन ही बनाए जिसके कारण उऩ्हें ड्रॉप कर दिया गया।

Prev1 of 5
Use your ← → (arrow) keys to browse