आईपीएल 2020
Prev1 of 3
Use your ← → (arrow) keys to browse

पूर्व भारतीय स्पिनर सुनील जोशी को बीसीसीआई की क्रिकेट सलाहकार समिति (सीएसी) ने कुछ महीने पूर्व ही राष्ट्रीय चयन समिति का अध्यक्ष नियुक्त किया है. जोशी ने भारतीय टीम के मुख्य चयनकर्ता के रूप में एमएसके प्रसाद की जगह ली है. जबकि पांच सदस्यीय इस समिति में पूर्व तेज गेंदबाज हरविंदर सिंह को भी शामिल किया था. सीएसी में पूर्व भारतीय क्रिकेटर मदन लाल, आरपी सिंह और सुलक्षणा नाइक भी शामिल हैं.

सुनील जोशी ने 1996 से 2001 के बीच भारतीय टीम के लिए 15 टेस्ट में 35.85 की औसत से 41, जबकि 69 एकदिवसीय में 36.36 की औसत से 69 विकेट लिए हैं. कर्नाटक के इस दिग्गज ने प्रथम श्रेणी के 160 मैचों में 25.12 की औसत से 615 विकेट चटकाए हैं. जोशी से भी ज्यादा दावेदारी पेश करने वाले हमारे पास कई और दिग्गज खिलाड़ी भी है.

जो भविष्य में भारतीय टीम के मुख्य चयनकर्ता बन सकते हैं. इसी कारण अपने इस विशेष लेख में हम आपको ऐसे ही 3 दिग्गज खिलाडियों के बारे में बताएँगे जो भविष्य में भारतीय टीम के मुख्य चयनकर्ता बन सकते हैं. आईये उन ३ दिग्गज क्रिकेटर पर एक नजर डालते हैं-

1. वीवीएस लक्ष्मण

VVS Laxman 57 5

क्रिकेट के सबसे बड़े प्रारूप में भारतीय टीम के महान बल्लेबाजों में शामिल वीवीएस लक्ष्मण की बल्लेबाजी के बारे में सभी जानते हैं. पिछले 2 दशक में भारतीय टीम का मध्यक्रम राहुल द्रविड़ और वीवीएस लक्ष्मण पर ही निर्भर रहता था. भारत का यह दिग्गज खिलाड़ी 2012 में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कह चूका है.

वीवीएस संन्यास के बाद अब स्टार स्पोर्टस के लिए गेस्ट कॉमेंट्री करते दिखाई देते हैं. साथ ही वह आईपीएल में सनराईजर्स हैदराबाद के मेंटर भी हैं. देखा जाए तो लक्ष्मण अभी किसी आधिकारिक पद पर नियुक्त नहीं हैं इसलिए उन्हें भविष्य में भारतीय क्रिकेट टीम का चीफ सिलेक्टर चुना जा सकता है.

आपको बता दें, 45 वर्षीय लक्ष्मण ने टेस्ट क्रिकेट में 45.37 की औसत से 8781 रन बनाए हैं. वहीं वनडे क्रिकेट में 30.76 की औसत से 2338 रन बनाए हैं. इसी कारण लक्ष्मण हमारी इस लिस्ट में तीसरे नंबर पर मौजूद हैं.

Prev1 of 3
Use your ← → (arrow) keys to browse