टेस्ट मैच
Prev1 of 3
Use your ← → (arrow) keys to browse

भारत-इंग्लैंड के बीच जारी 4 टेस्ट मैचों की सीरीज के आखिरी दो मुकाबलों के लिए 17 सदस्यीय टीम का ऐलान हो गया है, जिसमें बीसीसीआई की ओर से ज्यादा कुछ चेंजेज नहीं किए हैं. 17 सदस्यीय लिस्ट में ज्यादातर वही खिलाड़ी शामिल हैं, जो पहले और दूसरे टेस्ट मैच में शामिल थे. लेकिन कुछ बदलाव किए गए हैं, जिसके बारे में हम इस रिपोर्ट के जरिए बताएंगे.

हालांकि कुछ खिलाड़ियों को बीसीसीआई ने रिलीज भी कर दिया है. ताकि वो आगामी टूर्नामेंट विजय हजारे ट्रॉफी में हिस्सा ले सकें. लेकिन कुछ खिलाड़ियों को अभी भी टीम में उसी तरह से बरकरार रखा गया है, इस लिस्ट में हम बात करेंगे उन 3 खिलाड़ियों की, जो मौका पाने के हकदार नहीं थे, लेकिन इसके बाद भी उन्हें 17 सदस्यीय टीम में शामिल किया गया है.

उमेश यादव

टेस्ट मैच

इस लिस्ट में सबसे पहले बात करते हैं, दाएं हाथ के तेज गेंदाबाज उमेश यादव की, जो अंतिम दो टेस्ट मुकाबलों में खेलने के हकदार नहीं थे. लेकिन इसके बाद भी आखिरी के दो मैच में उनकी वापसी को लेकर बीसीसीआई ने जानकारी दी है, हालांकि साथ में ही यह भी कहा है कि, यदि वो फिट रहते हैं, तभी उनकी टीम में वापसी होगी.

ऐसे में सवाल यह उठता है कि, यदि उमेश यादव फिट नहीं थे, तो उन्हें अहमदाबाद के आगामी दो टेस्ट मैच के लिए टीम में क्यों चुना गया. दरअसल ऑस्ट्रेलिया दौरे पर मेलबर्न टेस्ट मैच की दूसरी पारी में उमेश चोटिल हो गए थे, जिसके बाद उन्हें विदेशी दौरा छोड़कर वापस आना पड़ा था.

हालांकि फिटनेस न होने की वजह से उन्हें शुरूआती के भी दो टेस्ट मुकाबले में शामिल नहीं किया गया था, लेकिन अंतिम के दो मुकाबलों में क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने उनके शामिल होने की संभावना जताई है. लेकिन यह कहा जा सकता है कि, जब बीसीसीआई खुद उनकी फिटनेस को लेकर श्योर नहीं है, तो उन्हें मौका नहीं मिलना चाहिए था.

Prev1 of 3
Use your ← → (arrow) keys to browse