Team India-oval

टीम इंडिया और इंग्लैंड (Team India vs England) के बीच खेला जा रहा ओवल टेस्ट मैच इस समय बेहद रोमांचक मोड पर है. मेजबान को टीम जीतने के लिए 282 रनों की जरूरत है. भारत ने इंग्लिश टीम को जीतने के लिए 368 रन का लक्ष्य दिया था. जिसका पीछा करने उतरी इंग्लिश टीम ने बिना किसी नुकसान के 90 से ज्यादा रन बना लिए हैं. लेकिन, भारत का एक रिकॉर्ड रहा है, जो काफी शानदार रहा है. क्या है टीम की जीत से जुड़ा ये राज, जानिए हमारी इस खास रिपोर्ट में….

इस मामले में शानदार रहा है भारत का रिकॉर्ड

Team India

दरअसल चौथी पारी में 350 से ज्यादा का लक्ष्य देने के बाद टीम इंडिया (Team India) को कभी शिकस्त का सामना नहीं करना पड़ा है. ऐसे 49 मैचों में अब तक भारत 34 मुकाबले को अपने नाम कर चुका है. जी हां इनमें से 15 मैच ड्रॉ रहे हैं.  भारत के खिलाफ चौथी पारी में लक्ष्य का सफल पीछा करते हुए सबसे बड़ा स्कोर 339 रन का रहा है. इस स्कोर तक ऑस्ट्रेलिया टीम पहुंची थी. ये मुकाबला 1977 का है, जब टेस्ट मैच पर्थ में खेला गया था.

यानी कि आप इन आंकड़ों से इस बात का अंदाजा लगा सकते हैं कि, भारत का पलड़ा अभी भी किस तरह इंग्लैंड पर भारी है. हालांकि इस मुकाबले में दोनों टीमों के बीच कांटे की टक्कर है. इसलिए जीत-हार या फिर ड्रॉ, इसका पता 5वें दिन के पूरे खेल के बाद ही पता चल पाएगा. लेकिन, इंग्लिश टीम जरूर इतिहास रचने की कोशिश करेगी. अब इंडिया का ये रिकॉर्ड टूटेगा या फिर खिलाड़ी बचाने में कामयाब रहेंगे इसका फैसला आज हो जाएगा.

क्या एक बार फिर 350 रन को बचाने में होगी भारतीय टीम कामयाब?

photo 2021 09 06 13 03 47 1

फिलहाल बात करें टीम इंडिया (Team India) की बैटिंग लाइनअप की तो टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में सिर्फ छठी बार ऐसा हुआ है जब नंबर आठ पर आकर एक ही खिलाड़ी ने दोनों पारियों में शानदार अर्धशतक ठोका होगा. शार्दुल ठाकुर इस पायदान पर अपनी जगह बनाने में कामयाब रहे हैं. 6 लोगों की इस सूची में 3 और भारतीय खिलाड़ियों का नाम शामिल है. ये नाम हरभजन सिंह रिद्धिमान साहा और वाशिंगटन का है.

photo 2021 09 06 16 19 48

इतना ही नहीं एशिया के बाहर टेस्ट हिस्ट्री में केवल चौथी बार और इंग्लैंड में पहली दफा इस तरह का नजारा देखने को मिला है जब भारतीय टीम के शीर्ष 4 बल्लेबाजों ने 40 से ज्यादा का स्कोर किया है. इससे पहले 2010 में न्यूजीलैंड के खिलाफ नागपुर टेस्ट में भारत के शीर्ष 4 बल्लेबाजों ने कम से कम अर्धशतरीय पारी खेली थी. हालांकि लोगों की निगाहें अभी ओवल टेस्ट पर गड़ी हुई हैं. क्या टीम इंडिया (Team India) एक बार फिर 350 से ज्यादा रन के स्कोर को बचाने में कामयाब होगी. ये बड़ा सवाल है.