Team India-oval

भारत और इंग्लैंड के बीच खेले गए ओवल टेस्ट मैच का आखिरी दिन बेहद रोमांचक रहा। दोनों टीमों ने सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया, लेकिन भारतीय गेंदबाजों ने आखिरी दिन इंग्लैंड के पूरे 10 विकेट चटकाए और Team India को जीत दिलाने में अहम योगदान दिया। मैच में सभी गेंदबाजों ने अपना योगदान दिया। भारत ने ये मैच 157 रनों से जीतकर सीरीज में 2-1 की बढ़त हासिल कर ली है। अगला मुकाबला मेनचेस्टर के ओल्ड ट्रैफर्ड में खेला जाएगा।

Team India ने 157 रनों से जीता मैच

Team India

भारतीय क्रिकेट टीम ने चौथी पारी में इंग्लैंड के सामने जीत के लिए 368 रनों का लक्ष्य रखा था। चौथे दिन के आखिरी सेशन में इंग्लैंड के ओपनर्स ने बिना विकेट गंवाए 77 रन बनाकर अपनी टीम को अच्छी शुरुआत दी थी। आखिरी दिन तक पहुंचे मुकाबले में Team India के गेंदबाजों ने संयुक्त प्रदर्शन के साथ इंग्लैंड के बल्लेबाजों पर दबाव बनाया और भारत को जीत दिलाई। विकेट चटकाने का सिलसिला शार्दुल ठाकुर ने शुरु किया, जब उन्होंने रोरी बर्न्स को 50 (125) रन पर पवेलियन का रास्ता दिखाया।

इसके बाद डेविड मलान को मयंक अग्रवाल और ऋषभ पंत ने अपनी चुस्त फील्डिंग का शिकार बनाया और 5 (33) के स्कोर पर रन आउट कर चलता कर दिया। लेकिन दूसरी छोर पर सलामी बल्लेबाज हसीब हमीद डटे हुए थे। तभी रवींद्र जडेदजा ने हमीद को 63 (193) रनों पर बोल्ड कर पवेलियन का रास्ता दिखा दिया।

इसके बाद ओली पोप, जिन्होंने पहली पारी में इंग्लैंड के लिए बड़ी पारी खेली थी, उन्हें जसप्रीत बुमराह ने 2 (11) के मामूली स्कोर पर बोल्ड कर दिया। इसी के साथ बुमराह ने अपने टेस्ट करियर का 100वां विकेट चटकाया। अभी इंग्लैंड इस विकेट से उबर ही नहीं पाई थी कि जॉनी बेयरस्टो भी बुमराह का शिकार बन गए और बिना खाता खोले पवेलियन लौट गए। क्रीज पर आए मोईन अली भारत के लिए खतरा बन सकते थे, लेकिन रवींद्र जडेजा की गेंद पर सूर्यकुमार यादव ने शानदार कैच लपका और उन्हें भी शून्य पर ही आउट कर दिया।

जो रूट भारत के लिए सबसे मुश्किल विकेट थे और वह पर सेट भी हो गए थे। लेकिन तभी भारतीय तेज गेंदबाज शार्दुल ठाकुर ने उन्हें 36 (78) के स्कोर पर चलता किया। ये भारत के लिए एक बड़ा विकेट रहा। इसके बाद क्रिस वोक्स और क्रेग ओवर्टन ने साझेदारी बनाने की कोशिश की, लेकिन तभी एक बार फिर विराट कोहली का गेंदबाज को बदलने का फैसला काम आया और उमेश यादव ने वोक्स को 18 (47) के स्कोर पर चलता कर दिया।

तीसरे सेशन में कप्तान विराट कोहली ने नई गेंद ली और उमेश यादव ने क्रेग ओवर्टन को 10 (29) पर आउट करते हुए भारत के लिए नौवा विकेट लिया। इसके बाद जेम्स एंडरसन को उमेश यादव ने 2 रन पर आउट कर भारत ने इंग्लैंड को 210 के स्कोर पर समेट दिया है और टीम इंडिया ने 157 रनों से बड़ी जीत दिलाई।

भारतीय गेंदबाजों को मिलना चाहिए श्रेय

Team India

Team India की इस जीत के लिए भारतीय गेंदबाजों को श्रेय मिलना चाहिए। उन्होंने धैर्य रखा और इंग्लैंड के बल्लेबाजों को एक-एक करके पवेलियन का रास्ता दिखाया। भारत के लिए जसप्रीत बुमराह ने 2, रवींद्र जडेजा ने 2, शार्दुल ठाकुर 2, उमेश यादव ने 3 विकेट चटकाए। इस जीत के साथ अब सीरीज में भारतीय क्रिकेट टीम ने 2-1 से बढ़त हासिल कर ली है। अब सीरीज का आखिरी मुकाबला मेनचेस्टर के ओल्ड ट्रैफर्ड में खेला जाएगा।

अगले मैच में इंग्लैंड की टीम मजबूती से वापसी करना चाहेगी और भारतीय टीम 2007 के बाद इंग्लैंड में टेस्ट सीरीज जीतना चाहेगी। ये भारत के पास इंग्लैंड में सीरीज जीतने का सर्वश्रेष्ठ मौका है।