Ravindra Jadeja - Hardik Pandya - VVS Laxman

न्यूज़ीलैंड के खिलाफ खेले जाने वाली तीन मैचों की वनडे सीरीज का अंत भारतीय टीम (Team India) ने हार के साथ किया। इस सीरीज में कीवी टीम ने 1-0 से जीत हासिल की। वहीं इस सीरीज के दो मुकाबले बारिश की भेंट चढ़े। भारतीय टीम ने भले ही ये सीरीज अपने हाथों से गंवा दी हो, लेकिन ये सीरीज टीम के लिए काफी सकारात्मक साबित हुई।

इस सीरीज के जरिए भारतीय टीम को एक ऐसा ऑलराउंडर खिलाड़ी मिला, जो अपनी गेंदबाजी और बल्लेबाजी के दम पर विरोधी टीम पर कहर बरपा सकता है। आइए जानते हैं टीम इंडिया के इस नए तुरुप के इक्के के बारे में…..

Team India को मिला पांड्या-जडेजा से भी ज्यादा खतरनाक ऑलराउंडर

Washington Sundar

भारत और न्यूज़ीलैंड के बीच खेले जाने वाली तीन मैचों की वनडे सरिरिज बारिश से काफी प्रभावित रही। सीरीज का पहला मुकाबला ही पूरा खेला गया, बाकी के दो मुकाबले बारिश के चलते बीच में ही रद्द कर दिए गए। तीसरा और निर्णायक मुकाबला भी बारिश में धुल गया, जिसके चलते पहला मैच जीतने के बाद कीवी टीम को सीरीज में जीत हासिल हुई।

वहीं तीसरा मुकाबला भले ही पूरा नहीं हो सका, लेकिन इस मैच में भारत (Team India) की बल्लेबाजी बुरी तरह फ्लॉप नजर आई। श्रेयस अय्यर और शिखर धवन के आउट हो जाने के बाद टीम ने कम-कम अंतराल में अपनी विकेट गंवा दी। उनके पवेलियन लौटते ही टीम इंडिया बीच मझधार में खड़ी नजर आई।

ऐसे में ऑलराउंडर खिलाड़ी वॉशिंगटन सुंदर (Washington Sundar) टीम के लिए संकटमोचक बनकर उभरे और शानदार पारी खेल टीम को सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाया। उन्होंने 64 गेंदों का सामना करते हुए 51 रनों की पारी खेली। उन्होंने ये पारी खेल ये साबित कर दिया कि वह जरूरत पड़ने पर टीम के लिए एक बेहतर गेंदबाज होने के साथ-साथ धाकड़ बल्लेबाज भी बन सकते हैं।

लक्ष्मण ने दिया Team India के इस ऑलराउंडर को मौका

Washington Sundar- Team India

बता दें कि वॉशिंगटन सुंदर ने टीम इंडिया (Team India) के लिए तीनों ही फॉर्मेट में क्रिकेट डेब्यू कर लिया है। उन्हें वीवीएस लक्ष्मण ने न्यूज़ीलैंड के खिलाफ खेले गई वनडे सीरीज के तीनों मुकाबलों में खुद को साबित करने का मौका दिया और उन्होंने इसका बखूबी फायदा भी उठाया। उन्होंने सीरीज के खेले गए मुकाबलों में सबको अपने विस्फोटक प्रदर्शन से काफी प्रभावित किया है।

वहीं अगर उनके क्रिकेट करियर की बात करें तो उन्होंने भारत के लिए 4 टेस्ट मैच, 9 वनडे मैच और 32 टी20 मैच खेले हैं। उनके पास विरोधी टीम के बल्लेबाजी और गेंदबाजी क्रम की धज्जियां उड़ाने की काबिलियत है। उनका ये प्रदर्शन ही इस बात का सबूत है कि वह हार्दिक पांड्या और रवींद्र जडेजा से भी ज्यादा खतरनाक ऑलराउंडर है।