Virat Kohli-T20 WC 2021

17 अक्टूबर से शुरु होने वाले टी20 विश्व कप को लेकर सभी उत्साहित हैं। भारत ने 2007 में एमएस धोनी की कप्तानी में पहली बार टी20 विश्व कप जीता था। इसके बाद से 14 साल बीत चुके हैं और Team India दूसरे टी20 वर्ल्ड कप की ट्रॉफी नहीं जीत सकी है। अब टीम इंडिया के उपकप्तान Rohit Sharma ने कहा है कि उनकी टीम आगामी टी20 विश्व को जीतकर इतिहास दोहरने के लिए जो कर सकती है, वह सब करेगी।

Rohit Sharma ने शेयर किया पोस्ट

भारतीय क्रिकेट टीम ने 2007 में साउथ अफ्रीका की मेजबानी में खेले गए पहले टी20 विश्व कप में शानदार प्रदर्शन करते हुए खिताबी जीत दर्ज की थी। अब यूएई की मेजबानी में खेले जाने वाले T20 विश्व कप में एक बार फिर Team India ट्रॉफी जीतने के लक्ष्य के साथ मैदान पर उतरना चाहेगी। 2007 में खिताब जीतने वाली भारतीय टीम का हिस्सा रहे Rohit Sharma ने इंस्टाग्राम पोस्ट में पोस्ट शेयर करते हुए मन की बात कही है। उन्होंने कहा,

”इस आईसीसी टी20 विश्व कप में हमारे में से प्रत्येक इतिहास दोहराने के लिए अपना सब कुछ झोंक देगा। हम इसके लिए आ रहे हैं। मैं इसे जीतने आ रहा हूं।”

रोहित ने याद की ऐतिहासिक जीत

टी20 विश्व कप फाइनल में Team India और पाकिस्तान का आमना-सामना हुआ था। जहां, भारत ने 5 रनों से मैच जीतकर इतिहास रचा था। मगर भारत की उस टीम में युवा खिलाड़ी थे। एमएस धोनी की कप्तानी में एक युवा टीम ने खिताबी जीत दर्ज की थी। Rohit Sharma ने उस जीत को याद करते हुए कहा,

”24 सितंबर 2007, जोहानिसबर्ग। जिस दिन एक अरब लोगों का सपना सच हुआ। उस समय किसने सोचा था कि हमारी तरह की तुलनात्मक रूप से कम अनुभवी टीम इतिहास रचेगी। तब से 14 साल बीत गए हैं, हमने लंबा रास्ता तय किया है, हमने कई और इतिहास बनाए हैं, हमें झटके लगे, हमें जूझना पड़ा लेकिन इससे हमारा हौसला नहीं टूटा, क्योंकि हमने कभी हार नहीं मानी। हमने सब कुछ झोंक दिया।”

सूर्यकुमार भी हैं गेंद को स्टेडियम पार पहुंचाने के लिए बेताब

T20

टीम के उपकप्तान Rohit Sharma द्वारा इस पोस्ट को फैंस काफी पसंद कर रहे हैं। सभी को उम्मीद है कि इस बार Team India ट्रॉफी के सूखे को खत्म करेगी और खिताबी जीत दर्ज करेगी। रोहित के इस पोस्ट पर सूर्यकुमार यादव ने एक ऐसा कमेंट किया, जिसे सभी काफी पसंद कर रहे हैं। रोहित शर्मा के मुंबई इंडियंस के टीममेट सूर्यकुमार यादव ने कहा,

”आपके साथ गेंदों को स्टेडियम के बाहर पहुंचाने को बेताब हूं। आइए इसे एक साथ जीतें और फिर से इतिहास रचें।”