Team India-ind vs SL

Team India के श्रीलंका दौरे का आगाज तो अच्छा रहा, लेकिन इसका अंत भला नहीं हो सका। सीरीज में मेहमान टीम को कई तरह की चुनौतियों का सामना करना पड़ा। लेकिन भारत ने अच्छा चरित्र दिखाया और आखिर तक डटे रहे। इन सबके बीच भारत के पूर्व क्रिकेटर यजुर्वेद सिंह ने इस दौरे को बेकार बताया है। उनका कहना है कि भारत ने ये सीरीज श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड की मदद करने के लिए खेली।

भारत के लिए बेकार रहा श्रीलंका दौरा

Team India

टीम इंडिया और श्रीलंका के बीच खेली गई ODI सीरीज में भारत ने 2-1 से से जीत दर्ज की थी। इसके बाद T20I सीरीज के आखिरी में भारत को 1-2 से हार का सामना करना पड़ा। भारत के लिए 4 टेस्ट मैच खेलने वाले यजुर्वेद सिंह ने श्रीलंका दौरे को भारत के लिए बेकार बताया है। उन्होंने News18 के हवाले से कहा,

“श्रीलंका का दौरा, जिसमें 3 एकदिवसीय और 3 ही T20I शामिल हैं, भारत के लिए बेकार रहा है। पूरी तरह से बीसीसीआई ने द्वारा श्रीलंकाई क्रिकेट बोर्ड की मदद करने के लिए एक सद्भावना इशारा था जो आर्थिक रूप से संघर्ष कर रहा है। अपने पड़ोसी के साथ अच्छा व्यवहार करने और उनकी जरूरत के समय में उनकी सहायता करने की सराहना की जाती है, लेकिन किसी को यह महसूस करना होगा कि राष्ट्रीय गौरव और प्रतिष्ठा दांव पर है।”

भारत को फुल स्ट्रेंथ टीम की नहीं थी जरुरत

Team India

विराट कोहली की कप्तानी वाली टीम इंग्लैंड दौरे पर थी। जिसके बाद चयनकर्ताओं ने शिखर धवन के नेतृत्व में Team India को श्रीलंका दौरे पर भेजा था। पूर्व क्रिकेटर यजुर्वेद सिंह का मानना है कि श्रीलंका को हराने के लिए भारत को उसकी फुल स्ट्रेंथ टीम की जरुरत ही नहीं थी। सिंह ने निष्कर्ष निकाला,

“श्रीलंकाई पक्ष टेस्ट खेलने वाले देशों की लिस्ट में सबसे नीचे रहा है और इसलिए उन्हें हराने के लिए भारत की फुल स्ट्रेंथ वाली टीम की आवश्यकता नहीं थी।”