Team India

भारत की एक टीम इस वक्त इंग्लैंड दौरे पर है, तो वहीं दूसरी टीम जुलाई में होने वाले श्रीलंका दौरे पर रवाना होने के लिए तैयार है। श्रीलंका दौरे के लिए चुनी गई टीम में 6 अनकैप्ड प्लेयर्स को मौका दिया गया, तो वहीं कुछ ऐसे भारतीय खिलाड़ियों को भी शामिल किया गया है, जिन्हें काफी वक्त से Team India से बाहर रखा गया। तो अब ऐसे में ये कहना बिलकुल गलत नहीं होगा की उन अनुभवी खिलाड़ियों के लिए श्रीलंका दौरा काफी ज्यादा अहम होने वाला है।

Team India में पुराने खिलाड़ी भी हैं हिस्सा

Team India

भारतीय क्रिकेट टीम (Team India) को श्रीलंका दौरे पर इसी महीने के आखिर में रवाना होना है। सीमित ओवर सीरीज खेलने के लिए जिस टीम इंडिया को चुना गया है, उसमें युवा खिलाड़ियों को तो मौका मिला ही है, साथ ही साथ कुछ ऐसे पुराने खिलाड़ी भी हैं, जो इस मौके को भुनाकर मुख्य टीम इंडिया में वापसी की दावेदारी पेश करेंगे। तो वहीं इनमें से कुछ आईसीसी टी20 विश्व कप स्क्वाड में जगह बनाने का लक्ष्य रखेंगे।

इन खिलाड़ियों में युजवेंद्र चहल, कुलदीप यादव, भुवनेश्वर कुमार और मनीष पांडे। पिछले कुछ समय में इन सभी खिलाड़ियों का प्रदर्शन कुछ खास नहीं रहा है। भुवी ने इंग्लैंड के खिलाफ बेहतरीन प्रदर्शन तो किया, लेकिन उनकी फिटनेस उनकी सबसे बड़ी दुश्मन है। वहीं युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव तो बिल्कुल औसत गेंदबाज की तरह नजर आए हैं।

कुल्चा के पास खुद को साबित करने का मौका

आईसीसी विश्व कप 2019 के बाद से कुलदीप यादव व युजवेंद्र चहल एक साथ Team India में खेलते नजर नहीं आए हैं। वो मशहूर कुल्चा की जोड़ी अब टूट चुकी है। चहल को तो सीमित ओर में मौके मिलते रहे हैं, लेकिन कुलदीप को तो मानो अब बेंच पर बैठे-बैठे ही वक्त बिताना पड़ता है।

प्रदर्शन की बात करें, तो चहल ने आईपीएल 2021 के 7 मैच में 8.26 की इकॉनमी से रन देकर 4 विकेट लिए, तो वहीं कुलदीप को तो सभी मैचों में बेंच पर बैठना पड़ा। ऐसे में अब ये मौका युजवेंद्र चहल व कुलदीप यादव अपने हाथ से नहीं जाने देना चाहेंगे, क्योंकि यदि वह इन मौकों को भुनाने में सफल होते हैं, तो वह टी20 विश्व कप में अपनी दावेदारी पेश कर सकेंगे।

मनीष पांडे, भुवी को दिखाना होगा कमाल

Team India

श्रीलंका दौरे पर भुवनेश्वर कुमार को उपकप्तान नियुक्त किया गया है। तो वहीं मनीष पांडे की लंबे समय के बाद टीम में वापसी हुई है। इस बात में कोई संदेह नहीं है कि पांडे टी20 फॉर्मेट के विस्फोटक बल्लेबाज हैं और वह एक फिनिशर की भूमिका अच्छी तरह निभा सकते हैं। लेकिन पिछले कुछ वक्त में उनका बल्ला खामोश रहा है, जिसके चलते उन्हें टीम से बाहर कर दिया गया था। मगर अब मौका अच्छा है, जब वह अपनी काबिलियत साबित करके मुख्य Team India में वापसी कर सकते हैं।

अब बात आती है भुवनेश्वर कुमार की। बात कुछ ऐसी है कि भुवी को जब मौका मिलता है, वह अच्छा प्रदर्शन तो करते हैं, लेकिन पिछले कुछ सालों से भुवी की सबसे बड़ी समस्या उनकी फिटनेस रही है। अच्छे प्रदर्शन के बाद वह चोटिल हो जाते हैं, जिसके चलते उनका पत्ता कट हो जाता है। मगर अब यदि वह श्रीलंका दौरे पर फिट रहते हुए प्रदर्शन करते हैं, तो उनके लिए टी20 विश्व कप में मौका बन सकता है।