team india- Rashid Latif

टीम इंडिया (Team India) ने बीते कुछ सालों में अपने जबरदस्त प्रदर्शन से एक नया मुकाम हालिस किया है. जिसका लोहा पूरी दुनिया ने माना है. तीनों ही फॉर्मेट में जिस तरह से भारतीय टीम ने पकड़ बनाई है, उसके कायल दुनिया भर के क्रिकेट दिग्गज और एक्सपर्ट्स हो चुके हैं. इसका अंदाजा पाकिस्तान के पूर्व कप्तान और विकेटकीपर राशिद लतीफ (Rashid Latif) के बयान से लगाया जा सकता है.

भारत और पाकिस्तान के बीच क्रिकेट में आ चुका है बड़ा अंतर

Team India

दरअसल इन दिनों भारत के बेहतरीन प्रदर्शन को देखकर पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर भी अचंभित हैं. इसके पीछे की एक बड़ी वजह यह है कि, टीम इंडिया (Team India) के मुकाबले पाक टीम का प्रदर्शन उतना उम्दा नहीं है. दोनों टीमों के बीच सफलता का अंतर काफी ज्यादा है. ऐसे में पाकिस्तान के पूर्व कप्तान का कहना है कि, बीते एक दशक में दोनों देशों में क्रिकेट बिल्कुल विपरीत होता जा रहा है. एक तरफ जहां भारत आगे बढ़ता जा रहा है, वहीं पाकिस्तान कहीं पीछे छूट गया है.

बीते एक दशक की बात करें तो, भारतीय टीम एक वर्ल्ड कप के साथ एक चैंपियंस ट्रॉफी भी अपने नाम कर चुकी है. इतना ही नहीं आक्रामक प्रदर्शन के दम पर 2014 के टी20 वर्ल्ड कप और 2017 की चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल में भी जगह बनाने में भारतीय टीम कामयाब रही थी.

पाकिस्तान के क्रिकेट को लेकर चिंता में हैं राशिद

photo 2021 06 05 13 12 07

यहां तक कि, हर आईसीसी टूर्नामेंट के सेमीफाइनल तक टीम इंडिया (Team India) जगह बना ही लेती है. और तो और अब टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में भी भारत पहुंच चुका है. जबकि पाकिस्तानी टीम केवल साल 2017 में चैंपियंस ट्रॉफी अपने नाम करने में सफल रही थी. इस दौरान पाक टीम ने भारत को हराकर ये कारनामा किया था. इसके बाद से टीम कुछ खास कमाल नहीं दिखा सकी है.

पाकिस्तान के लगातार निम्न प्रदर्शन को देखते हुए पाकिस्तानी क्रिकेट टीम के कई दिग्गज खिलाड़ी चिंता में हैं. ऐसे में राशिद लतीफ (Rashid Latif) ने भी चिंता जाहिर की है. भारत और पाकिस्तान के क्रिकेट स्तर में आए बदलावों को लेकर उन्होंने हैरानी भी जताई है. पूर्व पाकिस्तानी क्रिकेट की माने तो, साल 2010 के बाद से दोनों देशों में क्रिकेट अलग-अलग दिशा में बढ़ रहा है.

आईपीएल भारत के लिए खिलाड़ियों का भंडार साबित हुआ है

photo 2021 06 05 13 12 23

इस बारे में एक यूट्यूब चैनल पर बात करते हुए राशिद लतीफ ने कहा कि,

“पूर्व क्रिकेटरों के साथ ही विदेशी कोचों ने भी भारतीय खिलाड़ियों के विकास में मदद की है. भारत और पाकिस्तान में ये बड़ा फर्क रहा है.”

इसके साथ ही राशिद लतीफ (Rashid Latif) ने आईपीएल को उदाहरण के तौर पर पेश करते हुए कहा कि, इस लीग ने टीम इंडिया (Team India) को खिलाड़ियों का बड़ा भंडार तैयार करने में काफी ज्यादा मदद की है.