IP

भारतीय क्रिकेट टीम (Team India) और पाकिस्तान क्रिकेट टीम आगामी टी20 विश्व कप में 24 अक्टूबर को आमने-सामने आएंगी और टूर्नामेंट में अपने अभियान की शुरुआत करेंगी। मगर इस  हाईवोल्टेज मुकाबले से पहले एक पूर्व पाकिस्तानी क्रिकेटर के बोल बिगड़ते दिखे हैं। पूर्व ऑलराउंडर अब्दुल रज्जाक की ओर से धधकता बयान आया है, जिसमें उन्होंने विराट एंड कंपनी को बाबर आजम की टीम से कम आंका है।

Team India के पास नहीं है ऐसी काबिलियत

Team India

ये बात तो सच है कि हर कोई अपने देश के खिलाड़ियों को टैलेंटेड और टीम को मजबूत मानता है। पाकिस्तान को तो इस बात को लेकर कई बार विवादित बयान देते भी देते देखा जा चुका है। अब पूर्व पाकिस्तानी ऑलराउंडर अब्दुल रज्जाक ने टीम इंडिया के टैलेंट पर सवाल उठाया है। जब न्यूज चैनल ARY न्यूज के एंकर ने जब उनसे पूछा कि क्या भारत के पास पाकिस्तान के जैसे तेज गेंदबाज और ऑलराउंडर हैं या आप समझते हैं कि दोनों टीमों का कोई मैच नहीं है? इस सवाल के जवाब में रज्जाक ने कहा,

“पाकिस्तान के पास बेमिसाल टैलेंट है, जो कि हाई प्रेशर मुकाबलों में मैदान मारने में सक्षम है। ऐसी काबिलियत भारतीय टीम के पास नहीं है। मुझे नहीं लगता कि भारत की टीम पाकिस्तान का मुकाबला कर सकती है। पाकिस्तान के पास जो टैलेंट है वो पूरी तरह से अलग है।”

Team India को उकसा रहे रज्जाक

Team India और पाकिस्तान की टीमें सिर्फ आईसीसी इवेंट्स में ही एक-दूसरे के सामने आती हैं। दोनों टीमों के बीच लंबे वक्त से द्विपक्षीय सीरीज नहीं खेली जाती है, जिसका कारण दोनों देशों के बीच खराब राजनैतिक संबंध है। अब रज्जाक ने आगे कहा,

“ऐसे में मुझे नहीं लगता कि ये क्रिकेट के लिए सही है कि भारत और पाकिस्तान एक दूसरे के साथ क्रिकेट नहीं खेल रहे। मुझे लगता है कि ऐसा होना चाहिए ताकि लोगों को ये पता चले कि पाकिस्तान के पास जो टैलेंट है, वो भारत के पास नहीं है।”

इमरान खान को बताया कपिल देव से बेहतर

Team India

अब्दुल रज्जाक ने पाकिस्तान और भारतीय खिलाड़ियों की तुलना भी कर डाली और इस दौरान उन्होंने इमरान खान को कपिल देव से बेहतर ऑलराउंडर खिलाड़ी बताया। उन्होंने कहा,

“भारत के पास भी एक अच्छी टीम है, मैं कुछ और नहीं कह रहा। यहां तक ​​कि उनके पास अच्छे खिलाड़ी भी हैं। लेकिन अगर आप इसे संभावित रूप से देखें, तो हमारे पास इमरान खान थे, उनके पास कपिल देव थे। अगर तुलना की जाए तो इमरान खान काफी बेहतर थे। तब हमारे पास वसीम अकरम थे, उनके पास उस क्षमता का खिलाड़ी नहीं था। हमारे पास जावेद मियांदाद थे और उनके पास गावस्कर थे। कोई तुलना नहीं है। तब हमारे पास इंजमाम, युसूफ, यूनिस, शाहिद अफरीदी… उनके पास द्रविड़, सहवाग थे। कुल मिलाकर देखा जाए तो पाकिस्तान ने हमेशा अच्छे खिलाड़ी दिए हैं। यही कारण है कि भारत हमारे खिलाफ नहीं खेलना चाहता।”