Team India-ENG

टीम इंडिया (Team India) ने पहले टेस्ट में इंग्लैंड के खिलाफ शानदार शुरूआत की है. आज मुकाबले का आखिरी और 5वां दिन है. भारत को इस मुकाबले में जीत के लिए महज 157 रन और बनाने हैं. टीम के पास अभी पूरे 9 विकेट बचे हुए हैं. दूसरी पारी में बल्लेबाजी करने उतरी मेजबान टीम ने 303 रन बनाए और भारतीय टीम को जीत के लिए 209 रन का लक्ष्य दिया है. जिसका पीछा करने उतरी भारतीय टीम ने 52 रन बनाकर 1 विकेट गंवा दिया है.

89 साल बाद भारचीय टीम करना चाहेगी यह कारनामा

Team India

दरअसल भारत इंग्लैंड की धरती पर साल 1932 से इस फॉर्मेट के मुकाबले खेल रहा है. यह इंग्लिश सरजमीं पर भारतीय टीम का 63वां टेस्ट मैच है. इनमें से भारत को सिर्फ 7 टेस्ट मुकाबले में जीत हासिल हुई है. जबकि 34 में हार का सामना करना पड़ा है. 21 मुकाबले ड्रॉ की लिस्ट में शामिल रहे हैं. ऐसे में जाहिर सी बात है कि, नॉर्टिंघम टेस्ट में जीत हासिल करते हुए भारत इस श्रृंखला को अपने नाम करना चाहेगा.

इसके साथ ही 89 साल का नया कारनामा भी करना चाहेगा. जी हां टीम इंडिया (Team India) ने इंग्लैंड के 7 मैदानों पर अभी तक टेस्ट मुकाबले खेले हैं. लेकिन, इनमें से किसी भी मैदान पर जीत के मामले में भारतीय टीम का रिकॉर्ड अच्छा नहीं रहा है. हालांकि 89 साल में ऐसा पहली बार हो सकता है जब इंग्लैंड के किसी मैदान पर भारत टेस्ट में हार से ज्यादा जीत हासिल कर सकता है.

इंग्लैंड का पहला मैदान जहां पर भारत हासिल कर सकता है ज्यादा जीत

photo 2021 08 08 15 43 32

दिलचस्प बात तो यह है कि, यदि आज भारत इस टेस्ट मैच में जीत हासिल करता है तो नॉर्टिंघम के मैदान पर यह टीम की 8 मैचों में तीसरी जीत होगी. 2 मुकाबले नें अब तक यहां पर सिर्फ शिकस्त का सामना करना पड़ा है. जबकि 3 मैच ड्रॉ रहे हैं. यानी इस मैदान पर टीम को हार से ज्यादा जीत मिल जाएगी. अभी ऐसा कारनामा भारत इंग्लिश सरजमीं के किसी भी मैदान पर नहीं कर सका है. लीड्स में टीम ने 6 में से 2 मैच जीते हैं. 3 मैच में हार का सामना करना पड़ा है.

वहीं लॉर्ड्स पर 18 टेस्ट में से टीम को सिर्फ 2 टेस्ट मैच में जीत नसीब हुई है. जबकि 12 मुकाबले में हार मिली. इसके साथ ही ओवल मैदान के रिकॉर्ड को देखें तो अभी तक टीम इंडिया (Team India) ने सिर्फ 13 टेस्ट में सिर्फ 1 मैच में जीत हासिल की है. वहीं 5 मैच में हार का सामना करना पड़ा है. बाकी तीन वेन्यू पर टीम ने अभी तक एक भी मैच नहीं जीते हैं. बर्मिंघम में 7 टेस्ट खेले हैं और 6 में हार मिली है. इसके अलावा मैनचेस्टर में 9 में से 4 जबकि साउथम्पटन में सभी 3 टेस्ट मैच गंवा दिए हैं.

नॉर्टिंघम में कंगारू और विंडीज टीम का भी रहा है शानदार रिकॉर्ड

photo 2021 08 08 15 49 04

बात करें नॉटिंघम मैदान की तो यह मेजबान टीम के लिए अच्छा नहीं रहा है. यहां पर विदेशी टीमों का प्रदर्शन ज्यादा शानदार रहा है. ऑस्ट्रेलिया ने यहां पर 7 टेस्ट मैच अपने नाम किए हैं. जबकि 6 मुकाबले हारे हैं. वेस्टइंडीज ने इस मैदान पर 4 टेस्ट मुकाबले में जीत हासिल की है. सिर्फ एक में हार मिली है. अब टीम इंडिया (Team India) भी इस मैदान पर जीत दर्ज करते हुए नया कारनामा करना चाहेगी.

श्रीलंका ने भी यहां एक टेस्ट खेला है और जीत हासिल की है. जबकि पाकिस्तान ने इस मैदान पर एक भी टेस्ट नहीं जीती है. पाक ने यहां पर इंग्लैंड का सामना 4 टेस्ट मैच में किया है. जिनमें से 3 में हार मिली है. इसके अलावा भारत को  2018 में इंग्लैंड में खेली गई 5 मैचों की टेस्ट सीरीज में 1-4 से करारी शिकस्त का सामना करना पड़ा था. ऐसे में भारतीय टीम इस हार के कलंक को अपने माथे से हटाना चाहे. यह सीरीज वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के मौजूदा सीजन की पहली सीरीज भी है.