Team India IND vs SA 2022

विश्व क्रिकेट में Team India की पहचान हमेशा से ही टीम में मौजूद बल्लेबाजों की वजह से बनी है, भारतीय टीम में हमेशा से ही एक से बढ़कर एक धुरंधर बल्लेबाजों का जमावड़ा रहा है, लेकिन बीते कुछ सालों से भारतीय तेज गेंदबाज जिस प्रकार गेंदबाजी कर रहे हैं। उसके सामने विदेशी तेज गेंदबाज भी पानी भरते हुए नजर आ रहे हैं। लेकिन इसी बीच Team India के एक स्टार गेंदबाज का करियर खत्म होने की कगार पर पहुंच चुका है। इस खिलाड़ी ने टीम इंडिया को साल 2013 में चैंपियंस ट्रॉफी जिताने में अहम योगदान दिया था।

Team India से कभी भी बाहर हो सकता है ये खिलाड़ी

Team India has 'fear of losing'? Gautam Gambhir makes BIG claim after dismal South Africa tour

ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड की धरती पर भारत की जीत का झंडा गेंदबाजों की बदोलत लहरा रहा है। जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद सिराज और दीपक चाहर जैसे तेज गेंदबाजों ने Team India में अपनी जगह पक्की कर ली है।

लेकिन इसी बीच भारत के मौजूदा समय में सबसे अनुभवी तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार (Bhuvneshwar Kumar) भारतीय टीम में अपनी जगह पक्की करने की राह तलाश रहे हैं। टेस्ट टीम से तो भुवि का पत्ता साल 2018 से ही कटा हुआ है, लेकिन अब लिमिटेड ओवर फॉर्मेट से भी उनके बाहर होने की स्थिति पैदा हो रही है

दक्षिण अफ्रीका दौरे पर किया था निराश

How important is Bhuvneshwar Kumar for India in ICC World T20? VVS Laxman asserts

लगातार चोटिल होने के चलते Team India से अंदर-बाहर हो रहे भुवनेश्वर कुमार (Bhuvneshwar Kumar) ने भारत के दक्षिण अफ्रीका दौरे पर अपने प्रदर्शन से सभी को निराश किया था। Team India की इस दौरे पर शर्मनाक हार का विलेन भुवनेश्वर कुमार को ही माना जाता है।

क्योंकि इस दौरे पर जसप्रीत बुमराह मौजूद नहीं थे, लिहाजा टीम के सबसे अनुभवी गेंदबाज होने के कारण भुवी को गेंदबाजी क्रम की अगुवाई करनी थी। लेकिन उनकी गेंदबाजी में वो धार बिल्कुल नजर नहीं आई। एक तरफ जहां बाकी गेंदबाज दक्षिण अफ्रीका पर दबाव बनाने की कोशिश कर रहे थे। दूसरी ओर भुवी जमकर रन लुटा रहे थे।

चैंपियंस ट्रॉफी जिताने में दिया था अहम योगदान

Champions Trophy 2013: Player Ratings - India

मौजूदा समय में भुवनेश्वर कुमार टीम इंडिया पर बोझ बनता हुआ नजर आ रहे हैं। हाल ही में खत्म हुई श्रीलंका के खिलाफ टी20 सीरीज के आखिरी मैच में भी उन्हें बाहर का रास्ता दिखा दिया गया था। इस समय भुवनेश्वर ना विकेट ले पा रहे है और ना ही रन रोकने में असरदार साबित हो रहे हैं। ऐसे में अब उनके करियर पर पर्मानेन्ट ब्रेक लगता हुआ नजर आ रहा है।

अगर बात की जाए भुवनेश्वर कुमार के इंटरनेशनल करियर की तो उन्होंने साल 2013 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ डैब्यू किया था। टीम इंडिया के लिए उन्होंने 21 टेस्ट मैचों में 63 विकेट अपने नाम किये हैं, साल 2018 से उन्होंने कोई टेस्ट मैच नहीं खेला है। इसके साथ ही 121 वनडे मैच खेलते हुए भुवी ने 141 विकेट झटके हैं और 59 टी20 इंटरनेशनल में भुवी 58 विकेट लेने में कामयाब हुए हैं।