team India-5 player
Prev1 of 5
Use your ← → (arrow) keys to browse

क्रिकेट दुनिया में खुद को जमाने के लिए फिटनेस और तकनीक का खासा महत्व होता है. जो लगभग दुनिया की सभी टीमों के लिए अहम बन चुका है. पिछले 4-5 सालों में टीम इंडिया (Team India) को देखा जाए तो कप्तान से लेकर बीसीसीआई ने फिटनेस पर ज्यादा फोकस किया है. क्योंकि, इससे खिलाड़ियों का फायदा तो होता ही है, साथ ही उनका करियर भी एक लंबे अरसे के लिए टीम में सेट हो जाता है.

क्रिकेट करियर को सफल और लंबा बनाने में उनकी फिटनेस की ज्यादा भूमिका होती है. यूं तो क्रिकेट इतिहास में भी ऐसे कई खिलाड़ियों को देखा गया है, जिनका प्रदर्शन काफी बेहतरीन रहा है, लेकिन, खराब फिटनेस की वजह से उनका करियर बहुत जल्दी ही खत्म हो गया.

लेकिन, कुछ खिलाड़ी ऐसे भी रहे हैं जो अपने खेल प्रदर्शन के साथ ही अपनी फिटनेस पर विशेष खास ध्यान देते रहे हैं और इसी का नतीजा है कि, वो लंबे समय से क्रिकेट के जरिए अपने देश का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं. उदाहरण के तौर पर क्रिकेट में साउथ अफ्रीका के स्टार स्पिन गेंदबाज इमरान ताहिर और वेस्टइंडीज के स्टार बल्लेबाज क्रिस गेल जैसे कई क्रिकेटरों को आप देख सकते हैं.

WhatsApp Image 2021 05 21 at 4.03.40 PM

इनमें कुछ खिलाड़ी ऐसे भी शामिल हैं जिनका करियर सिर्फ खराब फिटनेस या इंजरी की भेंट चढ़ गया. इसमें भारतीय खिलाड़ियों की बात करें तो टीम इंडिया में ज्यादातर खिलाड़ी 35 से 36 साल तक की ही उम्र में क्रिकेट जगत से रिटायरमेंट ले लेते हैं. लेकिन, कुछ खिलाड़ी ऐसे भी हैं जो इन दिनों फिटनेस को ज्यादा तवज्जो दे रहे हैं.

जिस तरह से वो टीम में प्रदर्शन कर रहे हैं उसे देखते हुए कहा जा सकता है उनका क्रिकेट करियर काफी लंबा देखने को मिल सकता है. उदाहरण के तौर पर टीम इंडिया (Team India) के खिलाड़ियों में फिटनेस के सबसे बड़े उदाहरण कप्तान विराट कोहली खुद हैं. जो यो यो टेस्ट को खासा महत्व देते रहे हैं. इसके साथ ही भारतीय खिलाड़ियों के फिटनेस के स्तर को और बढ़ाने के लिए बीसीसीआई ने एक नया टेस्ट इंट्रोड्यूस किया है.

जिसका नाम ‘टाइम ट्रायल टेस्ट’ है. टीम इंडिया में जगह बनाने के लिए अब यो-यो के साथ ही प्लेयर्स को इस टेस्ट को भी पास करना जरूरी कर दिया गया है. आज हम अपनी इस खास रिपोर्ट में उन 5 भारतीय टीम के खिलाड़ियों के बारे में बताने जा रहे हैं, जो अपने फिटनेस, खेल स्किल के आधार पर आने वाले वक्त में उम्र के 40वें पड़ाव तक क्रिकेट के किसी एक फॉर्मेट में खेलते हुए दिखाई दे सकते हैं.

विराट कोहली

team India

इस लिस्ट में सबसे पहले बात करेंगे टीम इंडिया (Team India) के कप्तान विराट कोहली की, जो फिटनेस को खेल से पहले तवज्जो देते हैं. विराट उन खिलाड़ियों में आते हैं जो अपनी खेल तकनीकि के साथ ही फिटनेस को लेकर ज्यादा सीरियस हैं. साथ ही उनकी बल्लेबाजी स्किल भी कमाल की है. अब तक टीम के लिए उनका प्रदर्शन बेहतरीन रहा है और तीनों ही फॉर्मेट में उन्होंने शानदार प्रदर्शन किया है. जिस तरह से कोहली अपनी फिटनेस को बरकरार रखते हैं उसे देखते हुए यह कहा जा सकता है कि आने वाले समय में उम्र उनके क्रिकेट करियर पर हावी नहीं होगी.

विराट कोहली के क्रिकेट आंकड़ों की बात करें तो अपने 14 साल के करियर में उन्होंने कई बड़ी उपलब्धि हासिल की हैं. अब तक उनके बल्ले से वनडे और टेस्ट क्रिकेट में कुल 70 शतक निकल निकल चुके हैं. उन्होंने अब तक टेस्ट फॉर्मेट में 91 मैच खेले हैं. जिसमें 52.38 की बेहतरीन औसत से कुल 7490 रन बनाए हैं. इसमें उनके 27 शतक और 25 अर्धशतक शामिल हैं. जबकि 7 बार उन्होंने दोहरा शतक भी जड़ा है. इसके अलावा वनडे फॉर्मेट में कोहली ने 254 मैच खेले हैं और 59.07 की जबरदस्त औसत से कुल 12,169 रन बनाए हैं.

टी20 फॉर्मेट की बात करें तो कप्तान विराट ने अब तक 89 मैच खेले हैं. इन मुकाबलों में 52.65 की औसत से उन्होंने कुल 3159 रन बनाए हैं. इसके अलावा आईपीएल जैसी लीग में उनका बल्ला जमकर गरजा है. कोहली इस समय 32 साल के हैं. लेकिन, उनकी फिटनेस को देखकर उनके प्रदर्शन पर शक करने जैसी कोई गुंजाइश ही नहीं है. इसलिए यह कहा जा सकता है कि, कप्तान 40 साल की उम्र तक किसी तीनों प्रारूपों में से किसी एक फॉर्मेट में खेलते हुए दिखाई दे सकते हैं.

Prev1 of 5
Use your ← → (arrow) keys to browse