Team India

भारतीय क्रिकेट बोर्ड ने हाल ही में सभी खिलाड़ियों का कॉन्ट्रैक्ट जारी किया था। जिसमें बोर्ड ने चार ग्रेड्स में सैलरी को डिवाइड करते हुए 28 खिलाड़ियों को कॉन्ट्रैक्ट में शामिल किया। Team India के कई युवा खिलाड़ियों को कॉन्ट्रैक्ट भी मिला। मगर क्या आप जानते हैं कि पिछले 3 सालों में सिर्फ 95 रन बनाने वाले खिलाड़ी को बोर्ड ने ग्रेड ‘B’ में रखा है और साल के 3 करोड़ रुपये सैलरी देती है।

रिद्धिमान साहा कर रहे निराशाजनक प्रदर्शन

team india

बीसीसीआई दुनिया का सबसे अमीर क्रिकेट बोर्ड है। जो अपने खिलाड़ियों को मोटी सैलरी देता है। बोर्ड ने हाल ही में जो सालाना कॉन्ट्रैक्ट जारी किया है। उसमें टेस्ट स्पेसलिस्ट विकेटकीपर-बल्लेबाज रिद्धिमान साहा को ग्रेड ‘B’ में रखा गया है और उन्हें सालाना 3 करोड़ रुपये सैलरी मिलती है।

साहा के प्रदर्शन पर नजर डाले तो साल 2018 से साल 2020 तक उन्होंने कुल 7 मैच भारतीय टेस्ट टीम के लिए खेले, जिसमें उनके बल्ले से महज 95 (क्रमशः 0, 8, 21, 24, 12, 17*, 9, 4) रन निकले।

फिटनेस टेस्ट पास करने के बाद जा सकेंगे साहा

इंग्लैंड दौरे के लिए भारतीय क्रिकेट टीम (Team India) का ऐलान हो चुका है। इसमें 20 सदस्यों को शामिल किया गया है, लेकिन इसमें शामिल 2 खिलाड़ियों को फिटनेस के आधार पर ही इंग्लैंड भेजा जाएगा। जी हां, विकेटकीपर-बल्लेबाज रिद्धिमान साहा, केएल राहुल फिलहाल फिटनेस के आधार पर ही इंग्लैंड जा सकेंगे। साहा टीम इंडिया के बैकअप विकेटकीपर हैं, क्योंकि उन्हें ऋषभ पंत की मौजूदगी में बेंच पर ही बैठना पड़ सकता है। साहा को ऑस्ट्रेलिया दौरे पर पहले टेस्ट  मैच की प्लेइंग इलेवन में शामिल किया गया था, लेकिन वह कुछ खास नहीं कर सके, जिसके चलते उन्हें अंतिम ग्यारह से ड्रॉप कर दिया गया।

पंत की मौजूदगी में बेंच पर होंगे साहा

Team India

भारतीय क्रिकेट टीम(Team India) के युवा विकेटकीपर-बल्लेबाज ऋषभ पंत की मौजूदगी में रिद्धिमान साहा को प्लेइंग इलेवन में खेलने का मौका नहीं मिलने वाला है। दरअसल, पंत इस वक्त बेहतरीन फॉर्म में हैं, तो ऐसे में साहा को मौका मिलने के चांसेस ना के बराबर हैं।

साहा भारत के लिए 38 टेस्ट मैच खेल चुके हैं और इस बात को खुद कप्तान विराट कोहली भी स्वीकार चुके हैं कि वह मौजूदा समय में भारत के सर्वश्रेष्ठ विकेटकीपर हैं। मगर वह बल्ल्बेबाजी कहीं ना कहीं मात खा जाते हैं।