टी20 विश्व कप-बीसीसीआई

साल 2020 में ऑस्ट्रेलिया की सरजमीं पर टी20 विश्व कप होना था, लेकिन कोरोना महामारी के बढ़ते प्रकोप के कारण इसे ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट ने स्थगित कर दिया था. ऐसे में अब आईसीसी 2021, विश्व कप भारत में तय समय के अनुसार होने वाला है.लेकिन उससे पहले ही विश्व कप के आयोजन को लेकर पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने बेवजह की मांग करनी शुरू कर दी है.

दरअसल भारत सरकार की तरफ से लिखित वरीजा न मिलने की वजह से पीसीबी इस टूर्नामेंट को यूएई में शिफ्ट कराने की कोशिश में लग गई है.ऐसे में भला बीसीसीआई कैसे पीछे रहने वाली थी, उसने भी एहसान मनी की इस मांग के बाद करारा जवाब दिया है.

टी20 विश्व कप के लिए मार्च तक वीजा गारंटी की चाहते हैं एहसान मनी

टी20 विश्व कप

दरअसल पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के अध्यक्ष एहसान मनी ने हाल ही में टी20 विश्व कप 2021 को लेकर वीजा की गारंटी देने की मांग के बारे में बात करते हुए कहा है कि,

‘हमारी सरकार ने ऐसा कभी नहीं कहा कि, वो भारत में जाकर न खेल में हिस्सा न लें. ऐसे में आईसीसी नियम के मुताबिक हम कहीं भी जाने के लिए तैयार हैं. क्योंकि हम किसी भी नियमों को ताक पर नहीं रखना चाहते हैं. हालांकि आईसीसी के एग्रीमेंट के अनुसार, हम भारतीय सरकार से अपनी टीम और स्टाफ के लिए लिखित में वीजा आश्वासन चाहते हैं. साथ ही हमारे फैंस और, पत्रकार को भी वीजा देना होगा’.

टी20 विश्व कप यूएई में शिफ्ट कराने की मांग कर रहे एहसान मनी

टी20 विश्व कप-एहसान

उन्होंने आगे कहा कि, हालांकि टी20 विश्व कप के लिए आईसीसी ने इसके बारे में हमसे कहा था कि,

‘हमें लिखित रूप से आश्वासन दिसंबर 2020 तक मिल जाएगा, लेकिन ऐसा कुछ भी नहीं हो सका. इसलिए हमने दोबारा से आईसीसी चेयरमैन से इसे लेकर जनवरी और फरवरी में स्पष्ट तौर पर बात की थी. आईसीसी मैनेजमेंट से भी इस बारे में हमने कहा है कि, हमें मार्च तक लिखित में आश्वासन चाहिए. लेकिन अगर हमारी मांग के मुताबिक चीजें नहीं हुई तो हम टूर्नामेंट को भारत से यूएई में शिफ्ट कराने की डिमांड करेंगे.’

फिलहाल एहसान मनी के बयान के बारे में बात करते हुए बीसीसीआई के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि,

“उनका बयान हैरान करता है, क्योंकि कई बार वो (एहसान मनी) आईसीसी में सौरव गांगुली के साथ दोनों देशों के अच्छे रिश्ते को लेकर बात कर चुके हैं. कोरोना के बीच सौरव और आईसीसी के पूर्व चेयरमैन शशांक मनोहर ने भी इस मुद्दे को लेकर उनकी हेल्प की है, ऐसे में उनका ये बयान बचकाना है.”

टी20 विश्व कप के लिए वीजा की गारंटी चाहते हैं, एहसान मनी

टी20 विश्व कप

अधिकारी ने यह भी कहा कि,

‘ऐसा प्रतीत होता है कि, वो टी20 विश्व कप खेलने के मूड में नहीं है. शायद यही कारण है कि, वो इस तरह की बयानबाजी कर हैं. ऐसे में अगर वो इसे राजनीतिक मसला बनाते हैं, तो यह उनकी अपनी च्वाइस होगी. हमें इसकी समझ है कि वीजा की गारंटी देना किसी भी क्रिकेट बोर्ड के अधिकार का हिस्सा नहीं है.

क्योंकि ऐसे मामले में देश की सरकार ही यह निर्णय लेती है कि, इस तरह के मुद्दे में अगला कदम क्या होगा? क्या इस विषय में आईसीसी संयुक्त राष्ट्र संघ की तरह भूमिका निभाएगी? या फिर अपने घर में पल रहे आतंकियों पर लगाने के बाद ही पाकिस्तान टूर्नामेंट खेल पाएगा? यह सब बोर्ड नहीं जानता.’