Chris Jordan, England vs Australia

T20 World Cup 2021 में इंग्लैंड क्रिकेट टीम ने ऑस्ट्रेलिया (England vs Australia) को हराकर जीत की हैट्रिक लगा दी है। इंग्लैंड ने शुरुआत से ही मैच को अपने कब्जे में रखा। पहले गेंदबाजों ने रन लीक नहीं होने दिए और विकेट चटकाते रहे और फिर बल्लेबाजों ने आसानी से लक्ष्य को हासिल कर लिया और 8 विकेट से जीत दर्ज की। मैच में लाजवाब गेंदबाजी करने के लिए क्रिस जॉर्डन को मैन ऑफ द मैच के अवॉर्ड से सम्मानित किया गया।

इंग्लैंड ने कर दिए ऑस्ट्रेलिया के चारों खाने चित्त

Chris Jordan
Chris Jordan

ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड क्रिकेट टीम के बीच खेले गए मुकाबले में इंग्लिश टीम ने कंगारुओं के चारों खाने चित्त कर दिए। टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी ऑस्ट्रेलियाई टीम 125 रन पर ही सिमट गई। इसका श्रेय जाता है इंग्लैंड की विकेटचटकाऊ गेंदबाजी को। जिसमें क्रिस जॉर्डन (Chris Jordan) ने एक किफायती स्पेल फेंका, जिसमें उन्होंने सिर्फ 17 रन देकर 3 विकेट चटका लिए। इसके बाद क्रिस वोक्स और टाइमल मिल्स 2-2 विकेट और आदिल रशीद-लियाम लिविंगस्टोन 1-1 विकेट चटकाए।

यह भी पढ़ें: England ने जीत के साथ सेमीफाइनल में लगभग पक्की की अपनी जगह,

जवाब में बल्लेबाजी करने उतरी इंग्लिश टीम ने सिर्फ 2 विकेट गंवाकर लक्ष्य को हासिल कर लिया, जिसमें जोस बटलर (Jos Buttler) की 71 रनों की तूफानी पारी का अहम योगदान रहा। इस तरह संयुक्त प्रदर्शन के साथ इंग्लिस टीम ने 8 विकेट से जीत अपने नाम कर ली।

Chris Jordan को चुना गया मैन ऑफ द मैच

Chris Jordan
Chris Jordan

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ क्रिस जॉर्डन (Chris Jordan) ने सबसे किफायती गेंदबाजी की। उन्होंने स्पेल में 17 रन देकर 3 विकेट चटकाए। इसके लिए उन्हें मैन ऑफ द मैच के अवॉर्ड से सम्मानित किया। अवॉर्ड मिलने के बाद Chris Jordan ने कहा,

“खिलाड़ियों की ओर से यह शानदार गेंदबाजी प्रयास था। वोक्स ने टोन सेट किया। हम इसे जितना हो सके उतना सरल रखने की कोशिश करते हैं। हम अपना सर्वश्रेष्ठ करते हैं और पिच को जल्दी से परखते हैं। हमने अपनी लेंथ को पकड़कर सीधी गेंदबाजी करने की कोशिश की और सौभाग्य से यह आज काम कर गया। आप बस अपनी ताकत पर टिके रहने की कोशिश करें और फिर अपनी स्किल्स में कुछ जोड़ते रहे। आप अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में कभी सहज नहीं हो सकते। आप हर दिन सुधार करना चाहते हैं क्योंकि बहुत सारे खिलाड़ी हैं जो टीम में शामिल होने की दावेदारी पेश करते रहते हैं।”