RS

17 अक्टूबर से शुरु होने वाले T20 विश्व कप की तारीखें वक्त बीतने के साथ ही नजदीक आ रही हैं। एक ओर जहां खिलाड़ियों के बीच खिताबी जीत दर्ज करने की जंग होगी, तो वहीं अपनी-अपनी टीम को चैंपियन बनाने के लिए कोचों के कंधों पर भी जिम्मेदारी रहेगी। पाकिस्तान ने हाल ही में मैगा इवेंट के लिए ऑस्ट्रेलिया के पूर्व दिग्गज बल्लेबाज मैथ्यू हेडन को टीम का मुख्य कोच नियुक्त किया है। यदि गौर किया जाए, तो शोपीस में हिस्सा लेने वाली टीमों में 7 साउथ अफ्रीकी कोच व 3 ऑस्ट्रेलियाई कोच के कंधों पर जिम्मेदारी है।

किस टीम की कोचिंग है किसके कंधे

T20

आगामी T20 विश्व कप को लेकर सभी टीमें कमर कस चुकी हैं। तो आइए आपको बताते हैं कि किस टीम का कोच कौन है। शुरुआत करते हैं भारतीय क्रिकेट टीम से, टीम इंडिया की कोचिंग की जिम्मेदारी पूर्व भारतीय क्रिकेट रवि शास्त्री के कंधों पर हैं। वहीं साउथ अफ्रीका के पूर्व विकेटकीपर बल्लेबाज मार्क बाउचर को नेशनल टीम का कोच बनाया है। लांस क्लूजनर अफगानिस्तान के, रसेल डॉमिंगो बांग्लादेश के, ग्राहम फोर्ड आयरलैंड के, पियर डी ब्रुएन नामीबिया के, शेन बर्गर स्कॉटलैंड के और मिकी आर्थर श्रीलंका के कोच हैं।

इसके अलावा ऑस्ट्रेलिया की बात की जाए तो मैथ्यू हेडन के अलावा जस्टिन लैंगर ऑस्ट्रेलिया के जबकि रियान कैंम्प्बेल नीदरलैंड्स के कोच हैं। इंग्लैंड के कोच इंग्लैंड के ही क्रिस सिल्वरवुड, न्यूजीलैंड के कोच न्यूजीलैंड के ही गैरी स्टेड, ओमान के कोच श्रीलंका के दिलीप मेंडिस, पापुआ न्यू गिनी के कोच इटली के कार्ल सेंड्री और वेस्टइंडीज के कोच वेस्टइंडीज के ही फिल सिमंस हैं।

रवि शास्त्री के पास भरपूर अनुभव

टीम इंडिया के कोच रवि शास्त्री के पास भारत को T20 विश्व कप में खिताबी जीत दिलाने का बेहतरीन मौका है। शास्त्री के पास अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कोचिंग का भरपूर अनुबव है। वे 2017 से टीम इंडिया के साथ जुड़े हुए हैं। इससे पहले वे 2015-16 में भी टीम के साथ काम कर चुके हैं।

टीम चैंपियंस ट्रॉफी, वनडे वर्ल्ड कप और वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप में उतर चुकी है। शास्त्री की कोचिंग में टीम ने विदेशों में बेहतरीन प्रदर्शन किया है। लेकिन अब तक उनकी कोचिंग में भारत आईसीसी ट्रॉफी नहीं जीत सका है। इस बार शास्त्री का साथ महेंद्र सिंह धोनी भी देंगे। उन्हें टीम के मेंटॉर के रूप में चुना गया है।

फिल सिमंस जिता चुके हैं विंडीज को 2 खिताब

T20

एकमात्र वेस्टइंडीज की टीम ऐसी है, जिसने अब तक टी20 विश्व कप के 2 खिताब अपने नाम किए हैं। 2016 में जब विंडीज ने भारत की सरजमीं पर खेले गए T20 WC में ट्रॉफी जीती थी, तो टीम के कोच फिल सिमंस ही थे। उनके पास 17 साल के कोचिंग करियर का लंबा अनुभव है और उनकी टीम इस बार भी टूर्नामेंट में पसंदीदा रहेगी।

श्रीलंका के कोच मिकी आर्थर के पास भी अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कोचिंग का काफी अनुभव है। वह ऑस्ट्रेलिया और पाकिस्तान टीम की टीमों को कोचिंग दे चुके हैं। आर्थर ने पाकिस्तान को 2017 में चैंपियंस ट्रॉफी का खिताब जिताया था। उन्हीं की कोचिंग में पाकिस्तान की टीम टेस्ट और टी20 की नंबर-1 टीम भी बनीं। फिलहाल वह श्रीलंका के कोच हैं और उनकी टीम पिछले 2 सालों से कुछ खास प्रदर्शन नहीं कर सकी है।