Untitled Project 72

भारतीय क्रिकेट टीम के लिए टी 20 विश्वकप 2022 (T20 WC 2022) का अंत बेहद दर्दनाक रहा है। सेमीफाइनल में इंग्लैंड से मिली 10 विकेटों की हार टीम इंडिया के इतिहास में सबसे शर्मनाक शिकस्त में शामिल हो चुकी है। इस निराशाजनक प्रदर्शन के बाद पूरे विश्व में टीम इंडिया की तनकीद की जा रही है कि आखिर कैसे विश्व का सबसे अमीर बोर्ड और विश्व की बेस्ट टी20 लीग के स्वामी होने के बावजूद भारत की आईसीसी टूर्नामेंट में दुर्गति हो जाती है।

फैंस से लेकर पूर्व खिलाड़ियों ने इसका जिम्मेदार सीधे तौर पर टीम चयन को ठहरा दिया है। विशेषज्ञों का मानना है कि युवा खिलाड़ियों के प्रदर्शन को नजरअंदाज करते हुए जिस प्रकार सिर्फ बड़े नामों को लेकर भारत ने टूर्नामेंट में उतरने का जोखिम उठाया उसकी वजह से एक बार फिर विश्वकप का सपना टूट गया है। इसी बीच हम आपके लिए टीम इंडिया के युवा खिलाड़ियों से सजी एक ऐसी प्लेइंग एलेवन लेकर आए हैं जो ऑस्ट्रेलिया में जाकर विश्वकप (T20 WC 2022) जीतने का दम रखती है।

पृथ्वी शॉ और ईशान किशन के रूप में सलामी बल्लेबाज

Ishan Kishan, Prithvi Shaw and India's route to a brave new T20 world | Cricket - Hindustan Times

बाएं हाथ के विकेटकीपर बल्लेबाज ईशान किशन (Ishan Kishan) ने इन दिनों इंटरनेशनल क्रिकेट में धमाल मचाया हुआ है। रांची से आने वाले इस खिलाड़ी में कहीं ना कहीं महेंद्र सिंह धोनी की झलक नजर आती है। किशन भारत की ओर से इस साल टी20 क्रिकेट में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ियों में से एक है, जून में दक्षिण अफ्रीका ने भारत में 5 मैचों की टी20 सीरीज खेली थी तो ईशान अपने दमदार प्रदर्शन के चलते आईसीसी रैंकिंग के टॉप-5 खिलाड़ियों में शुमार हो गए थे।

दूसरी ओर सलामी बल्लेबाज के रूप में उनका साथ निभाने के लिए पृथ्वी शॉ सबसे कारगर खिलाड़ी साबित हो सकते हैं। सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी 2022 में पृथ्वी अबतक सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी है। उन्होंने 4 मैचों में 197 के अविश्वसनीय स्ट्राइक रेट के साथ कुल 237 रन बनाए हैं, जिसमें 1 शतक और 1 अर्धशतक शामिल है। ईशान और पृथ्वी की जोड़ी से दायें और बाएं हाथ का विकल्प भी मिलता है जो की विपक्षी टीमों के लिए परेशानी का सबब होता।

रजत पाटीदार, श्रेयस अय्यर और संजू सैमसन मिडल ऑर्डर में संभाल सकते हैं मोर्चा

IND vs SL: Partnership With Sanju Samson Was Crucial: Shreyas Iyer Post 2nd T20I Win

मजबूत मिडल ऑर्डर के लिए मौजूदा लय के अनुसार रजत पाटीदार अपनी जगह आराम से बना सकते हैं। इस साल आईपीएल में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की ओर से प्लेऑफ़ में शतक जड़ने वाले इस खिलाड़ी ने हर एक टूर्नामेंट में रनों का अंबार लगा रखा है। पहले रणजी ट्रॉफी, ट्रॉफी और अब सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में रजत का बल्ला आग उगल रहा है।

कुछ दिन पहले उन्होंने 42 गेंदों में 93 रनों की नाबाद पारी खेलकर एक बार फिर सभी का ध्यान अपनी ओर खींच लिया था। उनका साथ देने के लिए अनुभवी श्रेयस अय्यर और संजू सैमसन (Sanju Samson) भारत की बैकअप प्लेइंग एलेवन में अपनी जगह बनाते हैं। बहुत से विशेषज्ञों का मानना है कि संजू को टी20 वर्ल्डकप (T20 WC 2022) की मुख्य 15 में होना चाहिए था। क्योंकि वह ऑस्ट्रेलिया की अतिरिक्त उछाल वाली पिचों पर कहर बरपा सकते थे।

वेंकटेश अय्यर और वाशिंगटन सुंदर के रूप में हरफनमौला खिलाड़ी

You will be KKR's find this season': Venkatesh Iyer reveals senior India player's surreal prediction ahead of IPL debut | Cricket - Hindustan Times

टी20 फॉर्मेट में एक प्लेइंग एलेवन बनाने के लिए हरफनमौला खिलाड़ियों की भूमिका बेहद अहम होती है, ताकि वे गेंद और बल्ले से उचित योगदान दे सके। भारत के बैकअप खिलाड़ियों की प्लेइंग एलेवन में वेंकटेश अय्यर और वाशिंगटन सुंदर अपनी जगह बनाते हैं, यह दोनों खिलाड़ी क्रमश: तेज और स्पिन गेंदबाजी का विकल्प देने के साथ ही बल्लेबाजी से भी जौहर दिखा सकते हैं।

वेंकटेश ने हाल ही में सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में 63 की औसत से रन बनाने के साथ ही विकेट भी चटकाए हैं। इसके अलावा वाशिंगटन सुंदर को ऑस्ट्रेलिया में खेलने का अच्छा खासा अनुभव है। साल 2019-20 में भारत के ऑस्ट्रेलिया दौरे पर वह मुख्य स्पिनर के रूप में इस्तेमाल में लाए गए थे। इस टी20 विश्वकप (T20 WC 2022) में भी वह कारगर साबित हो सकते थे।

मोहम्मद सिराज, उमरान मलिक , कुलदीप सेन और रवि बिश्नोई गेंदबाजी क्रम में शामिल

T20 World Cup 2022: Umran Malik, Mohammed Siraj set travel with Team India following Jasprit Bumrah's injury | Cricket News | Zee News

अंत में गेंदबाजी क्रम की बात की जाए तो मौजूदा समय में टी20 विश्वकप (T20 WC 2022) में गई मुख्य टीम इंडिया की सबसे बड़ी समस्या गेंदबाजी बनी हुई है। जबकि भारत के पास मोहम्मद सिराज, उमरान मलिक और कुलदीप सेन के रूप में लगातार 150 की रफ्तार से गेंदबाजी करने वाले खिलाड़ी मौजूद है। सिराज ने हाल ही में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ वनडे सीरीज में घातक गेंदबाजी की, जिसके बाद उन्हें रिजर्व खिलाड़ियों में रखा गया है। वहीं उमरान और कुलदीप ने लगातार घरेलू क्रिकेट में धमाल मचाया हुआ है।

कई विशेषज्ञों का मानना है कि भारत के दृष्टिकोण से उमरान से बेहतर विकल्प ऑस्ट्रेलिया (T20 WC 2022) में कोई और गेंदबाज हो ही नहीं सकता था। वहीं स्पिन गेंदबाजी के लिए रवि बिश्नोई अपनी जगह बनाते हैं। उन्होंने एशिया कप 2022 में पाकिस्तान के खिलाफ मुकाबले में अपने हुनर का जलवा दिखाकर सभी को स्तब्ध कर दिया था।  हालांकि लगातार प्रदर्शन करते आ रहे खिलाड़ियों को बीसीसीआई ने नजरअंदाज किया है। जिसके बाद यह 4 गेंदबाज भारत की बैकअप प्लेइंग एलेवन में जगह बनाते हैं।

T20 WC 2022 के लिए भारत की बैकअप प्लेइंग-XI

ईशान किशन, पृथ्वी शॉ, रजत पातिदार, श्रेयस अय्यर, संजू सैमसन (कप्तान/विकेटकीपर), वेंकटेश अय्यर, वाशिंगटन सुंदर, कुलदीप सेन, उमरान मलिक, मोहम्मद सिराज, रवि बिश्नोई