सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी

सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी टी-20 टूर्नामेंट के क्वार्टर फाइनल का ऐलान हो गया है. इस लीग के क्वार्टर फाइनल में जगह बनाने वाली 8 टीमों का नाम सामने आ गया है. इसमें पहले कर्नाटक और पंजाब का नाम शामिल किया गया  है. इसके साथ ही इस लिस्ट में तमिलनाडु और हिमाचल प्रदेश की टीम ने भी जगह बनाई है. जिनके बीच क्वार्टर फाइनल में जोरदार भिड़ंत देखने को मिलेगी.

सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी के क्वार्टर फाइनल में इन टीमों ने बनाई जगह

सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी

दरअसल सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी का क्वार्टर फाइनल मुकाबला 26 जनवरी को खेला जाएगा. पहली भिड़ंत  कर्नाटक और पंजाब टीम के बीच होगी, और इसी दिन दूसरा क्वार्टर फाइनल मुकाबला तमिलनाडु और हिमाचल प्रदेश की टीम के बीच खेला जाएगा.

इसके बाद 27 जनवरी को हरियाणा और बड़ौदा के बीच तीसरा क्वार्टर फाइनल मुकाबला आयोजित किया जाएगा. इस दिन चौथे क्वार्टर फाइनल मुकाबले में राजस्थान और बिहार की टीमें खेलेंगी. इसके बाद 29 जनवरी को पहला सेमीफाइनल मुकाबला दूसरे और चौथे क्वार्टर फाइनल में जीती टीमों के बीच होगा.

इस दिन खेला जाएगा टूर्नामेंट का सेमीफाइनल और फाइनल मुकाबला

सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी

29 जनवरी को ही दूसरा सेमीफाइनल मुकाबला खेला जाएगा, इसमें उन टीमों के बीच भिड़ंत देखने को मिलेगी, जो पहले और तीसरे क्वार्टर फाइनल में जीती होंगी. इसके अलावा सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी का फाइनल मुकाबला 31 जनवरी को खेला जाएगा. जितने भी नॉकआउट के साथ सेमीफाइनल और फाइनल मुकाबले खेले जाएंगे, उसकी मेजबानी अहमदाबाद का मोटेरा स्टेडियम करेगा.

फिलहाल सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी के टी-20 टूर्नामेंट में सबसे बड़ा झटका मुंबई टीम को लगा है, क्योंकि क्वार्टर फाइनल में भी जगह बनाने से टीम चूक गई है. बात करें कर्नाटक टीम को बीते साल की यह चैंपियन टीम रही थी, जो इस साल भी क्वार्टर फाइनल में जगह बनाने में कामयाब रही है.

बीसीसीआई ने सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी से जुड़ी दी जानकारी

सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी

दरअसल सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी से जुड़ी यह जानकारी बीसीसीआई ने खुद ट्वीट करते हुए दी है. साथ ही यह भी बताया है कि, कौन से मुकाबले कब और किसके बीच खेले जाएंगे. क्वार्टर फाइनल में जगह बनाने वाली कई टीमें जहां अपने विरोधियों को सभी मैचों में हराकर पहुंची हैं, तो वही सभी 8 टीमें तकरीबन 4 मुकाबले जीतने के बाद यहां जगह बनाने में कामयाब रही हैं. इसके अलावा कई टीमों ने अपने पांचों मैच जीते हैं.