धोनी

इन दिनों क्रिकेट में कुछ मुद्दों पर जोरों-शोरों से चर्चा हो रही है जिसमें से एक सबसे ज्वलंत मुद्दा है एमएस धोनी का क्रिकेट मैदान से दूर होना। असल में विश्व कप के सेमीफाइनल मैच के बाद से ही धोनी के संन्यास की बातें चल रही हैं लेकिन उन सभी बातों को दरकिनार कर धोनी खुद को लगातार क्रिकेट मैदान से दूर रख रहे हैं लेकिन संन्यास का ऐलान नहीं कर रहे। अब इस मुद्दे पर सुरेश रैना ने अपने विचार रखे हैं।

धोनी खुद करेंगे अपने संन्यास का फैसला

धोनी

विश्व कप के बाद से धोनी मैदान पर तो नहीं दिखे लेकिन दिग्गजों के बयानों में बने ही रहते हैं। असल में टूर्नामेंट में धोनी को धीमी बल्लेबाजी को लेकर कड़ी आलोचना का सामना करना पड़ा था। तभी से उनके संन्यास पर भी चर्चा शुरू हो गई।

इस चर्चा में कुछ का मानना है कि अब वक्त आ गया है कि कप्तान विराट कोहली और टीम मैनेजमेंट को धोनी के संन्यास पर फैसला करना चाहिए। तो वहीं कुछ का मानना है कि धोनी जैसे बड़े खिलाड़ी के संन्यास का फैसला उन पर ही छोड़ देना चाहिए। दूसरे पक्ष का समर्थन करते हुए लंबे वक्त से टीम से बाहर चल रहे सुरेश रैना ने कहा- सिर्फ धोनी ही इस बात का फैसला कर सकते हैं कि उन्हें संन्यास कब लेना है। साथ ही रैना ने सेमीफाइनल में धोनी को नंबर-7 पर भेजने वाले फैसले पर कहा-

“अगर वह पहले आते, तो वो पंत का पांड्या और जडेजा को अच्छी गाइडेंस देकर मैच का रुख बदल सकते थे। हालांकि इतना पीछे आने के बाद भी  उन्होंने भारत को अंत तक मैच में बनाए रखा और हम जीत ही गए थे लेकिन मार्टिन गप्टिल के थ्रो ने उम्मीद तोड़ दी।”

“मैं कर सकता हूं नंबर-4 पर बल्लेबाजी”

सुरेश रैना

सुरेश रैना ने भारतीय क्रिकेट टीम के मिडिल ऑर्डर को कई सालों तक मजबूती दी है। लेकिन वह पिछले काफी वक्त से टीम से बाहर चल रहे हैं लेकिन अब उन्होंने खुद को नंबर-4 का दावेदार बताते हुए कहा,

“मैं भारत के लिए नंबर-4 पर बल्लेबाजी कर सकता हूं। मैंने पहले भी उस स्थान पर बल्लेबाजी की है और अच्छा प्रदर्शन किया है। आने वाले समय में दो विश्व कप खेले जाने हैं और मैं मौके की तलाश में हूं।”

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *