सूरज रंदीव

आपने कई ऐसे क्रिकेटरों के बारे में सुना होगा, जो पहले किसी और पेशे में थे और फिर क्रिकेट खेलने लगे। तो वहीं कुछ ऐसे क्रिकेटर भी रहे हैं, जिन्होंने क्रिकेट खेलने के बाद दूसरे पेशे को अपनाया। उसी में एक नाम शामिल हो चुका है श्रीलंका के लिए विश्व कप 2011 खेल चुके स्पिन गेंदबाज सूरज रंदीव का, जिन्होंने अब ड्राइवर का पेशा अपना लिया है और वह मेलबर्न स्थित एक फ्रेंच बेसड कंपनी ट्रांसडेव में बतौर बस ड्राइवर बहाल हुए हैं।

श्रीलंका के लिए खेल चुके हैं विश्व कप 2011

सूरज रंदीव

श्रीलंका क्रिकेट टीम के स्पिन गेंदबाज सूरज रंदीव अपने देश की विश्व कप टीम का हिस्सा रह चुके हैं। लेकिन अब सूरज ने अपना पेशा बदल लिया है और वह क्रिकेटर से बस ड्राइवर बन गए हैं। उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के मेलबर्न स्थित एक फ्रेंच बेसड कंपनी ट्रांसडेव में बतौर बस ड्राइवर नौकरी शुरु की है।

खिलाड़ी के अंतरराष्ट्रीय आंकड़ों पर गौर करें, तो उन्होंने श्रीलंका के लिए 12 टेस्ट में 46 विकेट चटकाए। 31 वनडे में 36 विकेट लिए तो 7 T20 मुकाबलों में 7 विकेट झटके। इंटरनेशनल क्रिकेट में रंदीव का सर्वश्रेष्ठ स्कोर 56 रन का रहा। उन्होंने अपना आखिरी घरेलू मैच अप्रैल 2019 में खेला था। इसके बाद उसी साल वह ऑस्ट्रेलिया शिफ्ट हो गए।

2012 में चेन्नई सुपर किंग्स को जिता चुके हैं खिताब

आईपीएल 2012 में श्रीलंकाई स्पिनर सूरज रंदीव ना केवल अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेल चुके हैं, बल्कि वह भारत की घरेलू टी20 लीग आईपीएल का भी हिस्सा रह चुके हैं। उन्होंने 8 मैचों में 6 विकेट झटकते हुए 2012 में महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी वाली सीएसके को खिताब जिताने में अहम भूमिका निभाई थी।

आपने यदि शुरुआत से आईपीएल को फॉलो किया है, तो यकीनन आप सूरज रंदीव के नाम से वाकिफ होंगे, क्योंकि उनकी नो बॉल की वजह से 99 पर बल्लेबाजी कर रहे विस्फोटक बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग शतक से चूक गए थे।

ड्राइविंग के साथ खेलते हैं क्लब क्रिकेट

क्रिकेट से इतने सालों तक जुड़े रहने के बाद इस खेल से बिल्कुल से दूर हो जाना किसी भी खिलाड़ी के लिए आसान नहीं होता। इसलिए वह किसी ना किसी जरिए इससे जुड़े ही रहते हैं। 36 वर्षीय सूरज रंदीव भी अपने नए पेशे ड्राइविंग पर तो पूरा ध्यान देते हैं, लेकिन साथ ही साथ वही लोकल सर्किट पर क्रिकेट भी खेलते हैं।

आपको जानकारी के लिए बता दें कि, जब भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया दौरे पर गई थी, तो एमसीजी पर ऑस्ट्रेलिया की टीम को स्पिन गेंदबाज ने स्पिन प्रैक्टिस कराई थी।