भारत और आॅस्ट्रेलिया के बीच खेले गए पांच वनडे मैचों की सीरीज में मेजबान टीम इण्डिया ने कंगारुओं के खिलाफ शानदार प्रदर्शन करते हुए 3-0 से अजेय बढ़त बना ली है।

एक तरफ कोहली के विराट रणबांकुरों द्वारा किए जा रहे शानदार प्रदर्शन पर चौतरफा प्रशंसा हो रही है, वहीं दूसरी तरफ मेहमान आॅस्ट्रेलिया के इस पूर्व क्रिकेट ने लगाए स्टीवन स्मिथ पर लगाये ‘फिक्सिंग’ के आरोपआॅस्ट्रेलिया टीम की जमकर आलोचना की जा रही है। इसमें क्रिकेट प्रशंसको के अलावा कई दिग्गज हस्तियां हैं, जिन्होंनेे स्टीव स्मिथ की कमान वाली कंगारु टीम को खराब प्रदर्शन पर जमकर खरी खोटी सुनायी। 

‘फ्रेंड फिक्सिंंग’ का लगाया गंभीर आरोप

पूर्व आॅस्ट्रेलियाई खिलाड़ी राॅडन हाॅग ने आॅस्ट्रेलिया टीम द्वारा भारत दौरे पर किए जा रहे लगातार खराब प्रदर्शन पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि,

“किसी भी टीम के हार की सबसे बड़ी जिम्मेदारी कप्तान पर होती है, जिसकी वजह से आॅस्ट्रेलिया टीम के हार की जिम्मेदारी खुद कप्तान को आगे आकर अपने ऊपर लेना पड़ेगा।

हालांकि इस हार के लिए मैं कुछ हद तक कप्तान स्टीवन स्मिथ को भी जिम्मेदार मानता हूं, जिन्होंने आॅस्ट्रेलिया टीम के अंदर खिलाड़ियों का चयन अपने हाथों में ले लिया है। स्मिथ को यह ध्यान अवश्य रखना चाहिए, कि वह एक कप्तान और टीम के खिलाड़ी है, उन्हें टीम का चयनकर्ता बनने की जरूरत नहीं है।”

 

स्मिथ पर लगा डाला यह आरोप

अपनी बात को जारी रखते हुए आॅस्ट्रेलिया के पूर्व दिग्गज क्रिकेटर हाॅग ने कहा कि,

“मुझे अब ऐसा लगने लगा है ,कि कंगारु टीम के कप्तान स्टीवन स्मिथ सिर्फ अपने नजदीकी और साथी खिलाड़ियों को ही टीम में चयन कर रहे हैं। चाहें एस्टन एगर को टीम में जगह देने की बात हो, या फिर निक मैंडिसन का चयन।

यह सभी खिलाड़ी स्मिथ के काफी नजदीक साथी रहे हैं। मै टीम के खिलाड़ियों के चयन पर सवालिया निशान नहीं उठा रहा,बल्कि टीम के खराब प्रदर्शन को कप्तान पर जिम्मेदारी लेेने की बाद कर रहा।” 

लियोन का नहीं होना समझ से परे

हाॅग ने मीडिया को दिए इंटरव्यू में कहा कि,

“बांग्लादेश टीम के खिलाफ मेहमान आॅस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम के सफल गेंदबाज नाथन लियोन ने बेहदशानदार खेल का प्रदर्शन किया था, बावजूद उनका भारत दौरे पर नहीं आना मेरे समझ से परे हैं।

नाॅथन ने कई रिकाॅर्ड बनाने के साथ बांग्लादेश के दौरे पर मैन आॅफ द सीरीज का अवार्ड भी अपने नाम कर चुके थे, इसीलिए कंगारु टीम के साथ भारत के दौरे पर नहीं चुनने का कारण पर सवाल खड़े करना लाजिमी है।” 

SHARE