SMith IPL RR BCCI 571 855

राजस्थान रॉयल्स और सनराइजर्स हैदराबाद के बीच खेले गए आईपीएल 2020 के 40वें मैच में हैदराबाद ने टॉस जीतकर गेंदबाजी का फैसला किया। परिणामस्वरूप पहले बल्लेबाजी करने उतरी राजस्थान रॉयल्स की टीम ने 155 रनों का लक्ष्य तय किया। मगर जवाब में हैदराबाद की टीम ने मनीष पांडे की आतिशी पारी की मदद से 19वें ओवर में लक्ष्य हासिल कर 8 विकेट से एक बड़ी जीत अपने नाम की।

मनीष पांडे ने कर दिया था मैच से बाहर

स्टीव स्मिथ

सनराइजर्स हैदराबाद ने टॉस जीतकर राजस्थान रॉयल्स को बल्लेबाजी के लिए आमंत्रित किया। जहां, राजस्थान ने 6 विकेट के नुकसान पर 154 रन बनाए। दुबई के मैदान पर 156 रन का लक्ष्य आसान नहीं था। मगर सनराइजर्स हैदराबाद ने सिर्फ 2 विकेट के नुकसान पर ही लक्ष्य को हासिल किया और 8 विकेट से एक बड़ी जीत अपने नाम की। एसआरएच के हाथों मिली करारी हार के बाद कप्तान स्टीव स्मिथ ने कहा,

“हमने अच्छी शुरुआत की, जोफ्रा ने शुरूआत में ही हमें दो बड़े विकेट दिलाए थे, लेकिन हम खेल को पूरी तरह से अपनी पकड़ में नहीं कर पाए थे। विजय शंकर ने स्मार्ट पारी खेली और मनीष पांडे ने आक्रामक अंदाज से खेलते हुए मैच से हमें दूर कर दिया।”

स्टीव स्मिथ को है पछतावा

जोफ्रा आर्चर, राजस्थान रॉयल्स के मुख्य तेज गेंदबाज हैं। इस मैच में आर्चर ने अपने स्पेल में 21 रन देकर 2 विकेट झटके। कप्तान स्टीव स्मिथ ने जोफ्रा को गेंदबाजी के दौरान 3 ओवर शुरु में ना देने को लेकर कहा,

 “मैंने कुछ अन्य खिलाड़ियों से सलाह ली, इस बारे में बात की गई कि जोफ्रा को शुरू में ही एक और ओवर दिया जाए, लेकिन सहमती नहीं बन पाई। शायद उसे एक और ओवर दिया होता, तो अच्छा रहता। यह मेरे दिमाग में था।”

“खेल जैसे-जैसे इस मैदान पर आगे बढ़ा पिच बल्लेबाजी के लिए और अच्छा हो गया। पहली पारी में पिच धीमा था और गेंद रुक रही थी।”

पहली पारी में बनाने चाहिए थे अधिक रन

स्टीव स्मिथ

सनराइजर्स हैदराबाद के सामने बल्लेबाजी करने उतरी राजस्थान रॉयल्स की टीम का कोई भी खिलाड़ी अर्धशतक नहीं बना सका। मतलब टीम ने नियमित अंतराल पर विकेट गंवाए और बोर्ड पर सिर्फ 154 रन ही लगा सकी। कप्तान स्मिथ ने इसपर कहा,

“हमें पहली पारी में कुछ और रनों की जरूरत थी। हम बैक टू बैक जीत हासिल नहीं कर पाए हैं। हालांकि अब हमें बस जीतते रहने की जरूरत है और न जाने कैसे चीजें हमारे लिए गणितीय रूप से काम करेंगी, हमें जीतते रहना होगा, यही अब हमारा काम है।”