Steve Smith
Australian captain Steve Smith directs fielders on day 3 of the second Trans-Tasman Test match between Australia and New Zealand at the WACA ground in Perth , Sunday, Nov. 15, 2015. (AAP Image/Dave Hunt) NO ARCHIVING, EDITORIAL USE ONLY, IMAGES TO BE USED FOR NEWS REPORTING PURPOSES ONLY, NO COMMERCIAL USE WHATSOEVER, NO USE IN BOOKS WITHOUT PRIOR WRITTEN CONSENT FROM AAP

टिम पेन के कप्तानी छोड़ने के बाद से ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम के अगले टेस्ट कप्तान को लेकर लगातार चर्चा हो रही है। माना जा रहा है कि तेज गेंदबाज पैट कमिंस या स्टीव स्मिथ (Steve Smith) को कप्तान नियुक्त किया जाएगा। मगर इस बीच ऑस्ट्रेलिया टीम के पूर्व कप्तान माइकल क्लार्क ने स्मिथ को लेकर बड़ी प्रतिक्रिया दी है। उनका कहना है कि अगर Steve Smith टीम के कप्तान नहीं हैं, तो उन्हें मैदान पर ज्यादा दखलअंदाजी नहीं करनी चाहिए।

Steve Smith दखलअंदाजी नहीं करनी चाहिए

Steve Smith
Steve Smith

महिला को अश्लील मैसेज भेजने वाले विवाद के सामने आने के बाद Tim Paine ने ऑस्ट्रेलियाई टीम की कप्तानी छोड़ने का ऐलान कर दिया। Steve Smith और पैट कमिंस के बीच कप्तान बनने की होड़ दिख रही है। इस बीच पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान माइकल क्लार्क का कहना है कि Steve Smith अगर कप्तान नहीं हैं, तो उन्हें मैदान पर फैसलों में दखलअंदाजी करने का हक नहीं है। क्लार्क ने कहा,

“स्टीव स्मिथ को थोड़ा सावधान रहने की जरूरत है क्योंकि जब टिम पेन कप्तान थे तब उनको ज्यादा दखल देने के लिए आलोचनाओं का सामना करना पड़ा था। स्लिप में खड़े होकर वो फील्डर्स को इधर-उधर कर रहे थे। अगर वो उप कप्तान हैं या फिर नहीं भी हैं तो उन्हें इन चीजों से काफी सावधान रहना होगा। मैदान में केवल एक ही कप्तान रह सकता है। अगर पैट कमिंस कप्तान बनते हैं तो वो खुद आपकी सलाह लेंगे लेकिन फैसला लेना उनका काम है।”

स्टीव स्मिथ को

Steve Smith
Steve Smith

Steve Smith ने 2017-18 के साउथ अफ्रीका दौरे पर हुए बॉल टेम्परिंग विवाद के बाद ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम के तत्कालीन कप्तान स्मिथ ने कप्तानी छोड़ी थी। इसके बाद एक साल के बैन के रूप में उन्होंने अपनी सजा काटी और अब वह कप्तान बनने के दावेदार माने जा रहे हैं।

हालांकि क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया व पिछले दिनों आए बयान से ऐसा अंदाजा लगाया जा रहा है कि पैट कमिंस को टीम की कमान सौंपी जा सकती है। जबकि स्मिथ के पास कप्तानी का अनुभव है, जो उन्हें इस पद का प्रबल दावेदार बनाता है।