EqYafY4UcAEyLj5

भारत और आस्ट्रेलिया के बीच जारी 4 टेस्ट मैचों की सीरीज का दूसरा मुकाबला यानि बॉक्सिंग डे टेस्ट मैच मेलबर्न के मैदान पर खेला गया। मैच में भारतीय क्रिकेट टीम ने अपने बल्लेबाजों और गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन के बदौलत आस्ट्रेलिया को 8 विकेट से हरा दिया। मैच में टीम और खिलाड़ियों ने कुल 18 बड़े रिकार्ड बनाए।

दूसरे टेस्ट मैच में बने कुल 18 बड़े रिकार्ड

अजिंक्य रहाणे

1. भारत ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ यह 29वीं टेस्ट मैच जीता, दोनों टीम के बीच अब तक 100 मैच हुए, 29 मैच में भारत और 43 मैच में आस्ट्रेलिया को जीत मिली। दोनों टीम के बीच 27 मैच ड्रॉ रहे और एक मैच बेनतीजा रहा।

2. ऑस्ट्रेलिया के बल्लेबाजों ने दूसरी पारी में 103.1 ओवर खेलकर 1.94 के रन रेट से 200 रन बनाए, 1978 के बाद से ऑस्ट्रेलिया की घरेलू मैदान पर 80 से ज्यादा ओवर खेलकर यह अब तक की सबसे धीमी पारी रही।

3. मैच में मोहम्मद सिराज ने 5 विकेट झटके, इसी के साथ वह भारत के ऐसे तेज़ गेंदबाज़ बन गए हैं। जिन्होंने अपने डेब्यू मैच में ओपनिंग गेंदबाजी नहीं करने के बावजूद पांच विकेट चटकाए। इनसे पहले सैय्यद आबिद अली ने ये कारनामा किया था। आबिद अली ने साल 1967 में एडिलेड टेस्ट में अपना डेब्यू किया था। उस मैच में उन्हें नई गेंद के साथ गेंदबाज़ी का मौका नहीं मिला, लेकिन मैच में उन्होंने सात विकेट अपना नाम किए थे।

EqYFr53UcAARpX1

4. अजिंक्य रहाणे ने दूसरे टेस्ट मैच में अपने टेस्ट क्रिकेट करियर का 12वां शतक बनाया।

5. बॉक्सिंग डे टेस्ट में शतक लगाने के साथ ही अजिंक्य रहाणे ने बॉक्सिंग टेस्ट मैच में अपना दूसरा शतक लगाया। वे ऐसा करने वाले पहले भारतीय खिलाड़ी बने। रहाणे ने इससे पहले 2014 में  मेलबर्न में खेले गए बॉक्सिंग डे टेस्ट में शतक 147 रन की पारी खेले थे।

6. अजिंक्य रहाणे आस्ट्रेलिया के खिलाफ शतक बनाने वाले भारत के पांचवे भारतीय कप्तान बने, इससे पहले सचिन तेंदुलकर, विराट कोहली, मोहम्मद अजहरुद्दीन, और सौरभ गांगुली यह कारनामा कर चुके है।

7. अजिंक्य रहाणे टेस्ट क्रिकेट में मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड पर बतौर भारतीय कप्तान शतक लगाने वाले दूसरे भारतीय कप्तान बने। इससे पहले सचिन तेंदुलकर ने 1998 में बतौर कप्तान शतक बनाया था।

8. अश्विन सबसे ज्यादा लेफ्ट हैंडर बैट्समैन को आउट करने वाले टेस्ट बॉलर बने।

बॉलर देश लेफ्ट हैंड बैट्समैन को आउट किया कुल विकेट
रविचंद्रन अश्विन भारत 192 375
मुथैया मुरलीधरन श्रीलंका 191 800
जेम्स एंडरसन इंग्लैंड 186 600
ग्लेन मैक्ग्रा ऑस्ट्रेलिया 172 563
शेन वॉर्न ऑस्ट्रेलिया 172 708
अनिल कुंबले भारत 167 619

9. मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड विदेश का पहला ऐसा ग्राउंड बना है, जहां भारत ने विदेश में जाकर 4 टेस्ट मैच जीते हैं। इतने ज्यादा टेस्ट मैच भारत किसी भी विदेशी ग्राउंड में नहीं जीत पाया।

10. मिचेल स्टार्क ने इस मैच में 2 विकेट हासिल करते ही, टेस्ट क्रिकेट में अपने 250 विकेट पूरे के लिए थे. वह ऑस्ट्रेलिया के लिए टेस्ट क्रिकेट में 250 विकेट लेने वाले 9वें गेंदबाज बने हैं.

11. ऑस्ट्रेलिया टीम की यह मेलबर्न में 32वीं टेस्ट हार थी, वह अपने देश की किसी एक जगह में सबसे ज्यादा टेस्ट मैच हारने वाली इंग्लैंड के साथ संयुक्त रूप से पहली टीम बन गई है। इंग्लैंड की टीम ने लॉर्ड्स में भी 32 टेस्ट मैच हारे हुए हैं।

EqTTYfTUwAA 3fB scaled

12.अजिंक्य रहाणे इस टेस्ट मैच की पहली पारी में रन आउट हुए थे, वह अपने टेस्ट क्रिकेट करियर में पहली बार रन आउट हुए हैं।

13. अजिंक्य रहाणे भारत के लिए अब तक 3 मैच में कप्तानी किए, और उन्हे तीनों ही मैच में जीत मिली।

14. अजिंक्य रहाणे धोनी के बाद दूसरे भारतीय कप्तान बने हैं, जिन्होंने अपनी कप्तानी के शुरूआती तीनों टेस्ट मैचों में भारतीय टीम को जीत दिलाई हो।

15. आस्ट्रेलिया टीम ने पिछले 9 साल से टॉस जीतने के बाद घर में खेलते हुए टेस्ट मैच नहीं हारा, इससे पहले आस्ट्रेलिया को 2011 में न्यूजीलैंड के खिलाफ 7 रन से हार मिली थी।

16. भारतीय क्रिकेट टीम एक सीरीज के लगातार दो टेस्ट मैच कभी नहीं हारी है। जबकि उसने दोनों मैच की पहली पारी में बढ़त बनाई हो।

17. भारतीय क्रिकेट टीम ने 10 साल बाद पहले फील्डिंग करते हुए विदेशी जमीन पर टेस्ट मैच जीता। इससे पहले 2010 में भारत ने पहले फील्डिंग करते हुए कोलंबो के मैदान पर श्रीलंका को हराया था।

18. मेलबर्न के मैदान पर 100 से ज्यादा रन की बढ़त के साथ पिछली बार 2010 में ऑस्ट्रेलिया टीम इंग्लैंड को 89 रन से हराया था। लेकिन इस बार भारत ने आस्ट्रेलिया को हरा दिया।