चमिंडा वास

श्रीलंकाई टीम के गेंदबाजी कोच चमिंडा वास ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। वास को तीन दिन पहले इस पद के लिए नियुक्त किया गया था। आईसीसी ने सोमवार को ट्वीट कर इसकी जानकारी दी। आपको बता दें श्रीलंका के सफल क्रिकेटरों में से एक वास को श्रीलंकाई बोर्ड ने वेस्टइंडीज दौरे से पहले टीम की गेंदबाजी को सर्वेसर्वा बनाया था।

वेतन को लेकर हुआ विवाद

चमिंडा वास

श्रीलंका के पूर्व दिग्गज तेज गेंदबाज और श्रीलंका के सफल  क्रिकेटरों में से  एक चमिंडा वास ने सोमवार को देश के क्रिकेट बोर्ड के साथ वेतन विवाद के कारण राष्ट्रीय टीम के तेज गेंदबाजी कोच के पद से इस्तीफा दे दिया। श्रीलंकाई बोर्ड ने वेस्टइंडीज दौरे से पहले टीम की गेंदबाजी का सर्वेसर्वा बनाया था। मगर टीम के वेस्टइंडीज दौरे पर निकलने से कुछ घंटे पहले ही इस दिग्गज गेंदबाज ने इस्तीफा दे दिया।

श्रीलंका बोर्ड ने बताया निराशाजनक

वास के इस्तीफे के बाद श्रीलंकाई बोर्ड की तरफ से इस पर बयान जारी किया गया है, जिसमें वास के इस्तीफे को दुर्भाग्यपूर्ण बताया है। बयान में कहा गया है, “यह निराशाजनक है कि दुनियाभर में जिस तरह का आर्थिक माहौल है उसे देखते हुए वास ने निजी वित्तीय फायदे के लिए टीम की रवानगी की पूर्व संध्या पर अचानक और इस तरह का गैरजिम्मेदाराना कदम उठाया है”।

बोर्ड की तरफ से बताया गया है कि देश के शीर्ष तेज गेंदबाजों में शामिल रहे वास ने एसएलसी अकादमी के कोच पद से भी इस्तीफा दे दिया है।

चमिंडा वास को वेस्टइंडीज दौरे के लिए बनाया गया था कोच

चमिंडा वास

आपको बता दें, चमिंडा वास को तीन टी-20 और तीन वनडे अंतरराष्ट्रीय मैचों की सीरीज के अलावा दो टेस्ट मैचों की सीरीज के लिए सोमवार को टीम के साथ वेस्टइंडीज रवाना होना था। लेकिन उससे चंद घंटे पहले ही वास ने देश के क्रिकेट बोर्ड के साथ वेतन विवाद के कारण राष्ट्रीय टीम के तेज गेंदबाजी कोच के पद से इस्तीफा दे दिया।

गौरतलब है कि, श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड ने बीते शुक्रवार को ही चमिंडा वास को अपना गेंदबाजी कोच नियुक्त किया था। बता दें, वास से पहले ऑस्ट्रेलिया के ‘डेविड साकेर’ श्रीलंका के गेंदबाजी कोच थे लेकिन उन्होंने भी गुरुवार को अपने निजी कारणों का हवाला देते हुए अपने पद को छोड़ दिया था।