Sri Lanka-aravinda de silva

टीम इंडिया (Team India) इस समय शिखर धवन के नेतृत्व में श्रीलंका (Sri Lanka) के दौरे पर पहुंची हुई है. इसी बीच विरोधी टीम के पूर्व कप्तान अर्जुन रणतुंगा के आए बयान ने एक बहस छेड़ दी है. जिस पर लगातार प्रतिक्रियाओं का सिलसिला जारी है. टीम इंडिया को दोयम दर्जे की टीम करार देना पूर्व क्रिकेटर को किस कदर महंगा पड़ा है, इसका अंदाज उन्हें हो चुका होगा. अब उनके इसी बयान पर श्रीलंकाई टीम के पूर्व खिलाड़ी अरविंद डिसिल्वा (aravinda de silva) ने भी अपनी प्रतिक्रिया दी है.

रणतुंगा के बयान के बाद डिसिल्वा ने भारतीय टीम को लेकर कही बड़ी बात

Sri Lanka

डिसिल्वा का मानना है कि, जो भारतीय टीम श्रीलंका (Sri Lanka) दौरे पर आई है वो दोयम दर्जे की तो कतई नहीं है. इस टीम में काफी ज्यादा गहराई है. दरअसल सीनियर खिलाड़ियों की गैरमौजूदगी में बीसीसीआई चयनकर्ताओं ने दूसरी टीम श्रीलंका दौरे पर भेजी है. जिसमें विराट कोहली, रोहित शर्मा, जसप्रीत बुमराह समेत कई स्टार खिलाड़ी शामिल नहीं है. क्योंकि इस सभी अनुभवी खिलाड़ी इंग्लैंड दौरे पर मौजूद है.

इन खिलाड़ियों के टीम में ना होने की वजह से रणतुंगा ने इसे दूसरे दर्जे की टीम करार दिया था. उन्होंने कहा था कि, दोएम दर्ज की टीम को श्रीलंका (Sri Lanka) के खिलाफ भेजना बोर्ड का अपमान है. अरविंद डिसिल्वा ने इस बारे में बात करते हुए कहा कि, भारत के पास प्रतिभा की कोई कमी नहीं है. इस वजह से इस टीम को दूसरे दर्जे की नहीं कहा जा सकता. दुनिया भर में इस समय रोटेशन के आधार पर ही खिलाड़ियों का चयन किया जा रहा है. क्योंकि लगातार बायो बबल में रहना आसान नहीं है.

रोटेशन के मुताबिक अब टीमें कर रही हैं ऐसा बदलाव

shikhar dhawan sl 1

इस बारे में आगे उन्होंने वर्चुअल बातचीत के दौरान कहा कि,

“युवा खिलाड़ियों और अधिकारियों के लिए भी यह मानसिक रूप से काफी चुनौतीपूर्ण है. भविष्य में भी शायद ऐसा ही होगा और यदि आप दूसरे या तीसरे दर्जे की टीम भी भेजते हैं तो वो तीसरे दर्जे की नहीं होगी बल्कि यह रोटेशन के आधार पर किया गया इंतजाम है”.

photo 2021 07 09 10 20 51

इससे पहले श्रीलंका (Sri Lanka) क्रिकेट बोर्ड ने भी रणतुंगा के बयान से असहमति जताई थी. उन्होंने कहा था कि, श्रीलंका दौरे पर पहुंची 20 सदस्य टीम में से 14 सदस्य किसी ना किसी फॉर्मेट में खेल चुके हैं. इन बयानों से बात स्पष्ट होती है कि, रणतुंगा के बयान से श्रीलंकाई दिग्गज भी इत्तेफाक नहीं रखते हैं. भारत और श्रीलंका के बीच 13 जुलाई से वनडे सीरीज की शुरूआत हो रही है.