608699 kohli ganguly pti

भारत-दक्षिण अफ्रीका के बीच हुए दूसरे टी-20 मुकाबले में द.अफ्रीका ने आठ गेंद रहते हुए 6 विकेट से जीत हासिल की। पहले बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम ने 4 विकेट के नुकसान पर 20 ओवर में 188 रन बनाए। जवाब में उतरी द. अफ्रीका ने छह विकेट रहते हुए 18.4 ओवर में मैच अपने नाम कर लिया। सीरीज का पहला मुकाबला भारत ने 28 रनों से जीता था। इसी के साथ सीरीज में 1-1 की बराबरी में हैं। कल हुए मुकाबले में भारतीय स्पिनर यजुवेंद्र चहल काफी महंगे साबित हुए। चहल ने चार ओवर में 64 रन दिए। इसके बाद लोग टीम की हर के लिए गेंदबाज और शीर्ष बल्लेबाजों को जिम्मेदार ठहरा रहे हैं।

पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली ने टीम इंडिया को दूसरे टी-20 में मिली हार को लेकर किसी और को ही जिम्मेदार ठहराया है। इस दौरान सौरव गांगुली टीम के सपोर्ट में खड़े रहे।

बारिश की वजह से हुई टीम की हार

sourav ganguly afp.jpeg 0

इंडिया टुडे से बातचीत करते हुए पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने टीम का समर्थन करते हुए बारिश को जीत की मुख्य वजह बताई । सौरव गांगुली ने कहा कि बारिश की वजह से मैदान भीगा हुआ था। इस वजह से गेंदबाजों को भीगी गेंद के साथ काफी संघर्ष करना पड़ा ।  साउथ अफ्रीका को बारिश को फायदा मिला। जबकि भारतीय टीम भीगी गेंद से लगातार संघर्ष कर रही थी।

सौरव गांगुली ने कहा,कि

“काफी बारिश के बाद यह निसंदेह है कि 188/4 का स्कोर बड़ा था। मैदान में पानी होने के बावजूद टीम का बचाव करना मुश्किल हो जात है। आप देख सकते थे कि चहल भीगी गेंद के साथ संघर्ष कर रहे थे। और दक्षिण अफ्रीका इसे खेलने में सक्षम था। स्पोर्ट पार्क स्टेडियम द.अफ्रीका का कोई बड़ा स्टेडियम नहीं है और द.अफ्रीका ने अच्छा खेला। विकेट में गेंद न तो स्विंग हो रही थी और ना ही टर्न हो रही थी जैसा कि टेस्ट और वनडे के दौरान हो रही थी। इसी का फायदा अफ्रीका को मिला। ‘

गांगुली ने चहल का किया बचाव

636967 628369 yuzvendra chahal odis

पूरी सीरीज में शानदार प्रदर्शन करने वाले यजुवेंद्र चहल ने कल हुए मैच में सबसे ज्यादा पीटे गए। उन्होंने 4 ओवर में 64 रन देकर टी-20 फार्मेट में सबसे ज्यादा रन देने वाले भारतीय गेंदबाज बन गए हैं। जब पूर्व क्रिकेटर सौरव गांगुली से चहल के प्रदर्शन के बारे में सवाल पूछा गया था,तो वो बड़ी ही बेबाकी से चहल का बचाव करते हुए दिखे।

उन्होंने कहा कि,  

‘हम बिल्कुल भी आश्चर्यचकित नहीं हैं,क्योंकि चहल भीगी गेंद से काफी संघर्ष कर रहे थे। जबकि द.अफ्रीका भीगी गेंद के साथ अच्छा स्कोर कर रही थी।’  

बातचीत के दौरान पूर्व क्रिकेट व कप्तान सौरव गांगुली ने 24 फरवरी को होने वाले मैच के बारे में भी बात की उन्होंने कहा कि भारत केपटाउन में होने वाले मैच को जीतने में सक्षम है। हालांकि इसके बाद थोड़ा दबाव जरूर होगा। लेकिन वो जीत सकती है। आखिरी मैच और रोमांचकारी हो गया। कुलदीप यादव की आखिरी मैच में वापसी होगी और एक बार फिर चहल व कुलदीप की जोड़ी बेहतरीन प्रदर्शन करेगी।

क्लासें और डुमिनी ने पलटा मैच का रूख

Klaasen Twitter @ICC 380 1

दूसरे टी-20 मैच का रूख अफ्रीका के धुरांधर बल्लेबाज हेनरिक क्लासें ने पलट दिया। उनके साथ क्रीज में मौजूद कप्तान जेपी डुमिनी ने सधी हुई पारी खेली। हेनरिक ने 7 छक्के और तीन चौके की मदद से 30 गेंदों में 69 रन की ताबड़तोड़ पारी खेली। खास बात ये रही कि ये सभी छक्के और दो चौके चहल के औवर में लगाए। जेपी डुमिनी ने कप्तानी वाली जिताऊ पारी खेलते हुए 40 गेेंद में 64 रन बनाए।

द.अफ्रीका के लिए बारिश बनी मददगार

South African Cricket Team 1508414764

वनडे और टी-20 सीरीज में नजर डाले तो एक चीज कॉमन दिख रही है। द.अफ्रीका ने वनडे सीरीज के चौथे मैच में जीत दर्ज की थी। जोहांसबर्ग में खेले गए इस मैच में भी बारिश ने खूब खलल डाला था। इसका फायदा अफ्रीका को मिला । भारत यह मुकाबला 5 विकेट से हार गया था। डकवर्थ लुईस नियम के अनुसार अफ्रीका को 28 ओवर में 202 रन का टारगेट मिला था। इस मैच में भी क्लासें ने 27 गेंदों में 43 रन की नाबाद पारी खेली थी।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *