KKR

दिल्ल कैपिटल्ल और कोलकाता नाइट राइडर्स के बीच IPL 2021 का दूसरा क्वालीफायर मुकाबला खेला जा रहा है। इस बड़े मुकाबले में टॉस जीतकर KKR ने पहले फील्डिंग करने का फैसला किया। जहां, पहले बल्लेबाजी करने उतरी दिल्ली की पारी में शिमरॉन हेटमायर (Shimron Hetmyer) को एक ऐसा जीवनदान मिला, जिसने सभी को हैरान कर दिया। असल में शिमरॉन आउट होकर पवेलियन लौट चुके थे, तभी पता चला की वरुण चक्रवर्ती की जिस गेंद पर वह आउट हुए थे, वह नो बॉल थी।

चक्रवर्ती की नो बॉल ने हेटमायर को दिया जीवनदान

आईपीएल 2021 के दूसरे क्वालीफायर मुकाबले में एक अजीबो-गरीब सीन देखने को मिला। मैच का 17वां ओवर पूरे रोमांच से भरपूर रहा। असल में हुआ कुछ यूं, वरुण चक्रवर्ती 17वां ओवर डालने मैदान पर आए। तभी चक्रवर्ती के ओवर की चौथी गेंद पर बड़ा शॉट लगाने के प्रयास में हेटमायर शुभमन गिल को कैच थमा बैठे। हेटमायर बेहद ही निराश मन से डग आउट लौट गए, क्योंकि यकीनन गिल ने एक शानदार कैच लपका।

मगर इसके बाद आया कहानी में ट्विस्ट, जब थर्ड अंपायर ने चक्रवर्ती की उस गेंद को नो बॉल करार दिया, जिसपर Shimron Hetmyer आउट हुए थे। हालांकि तब तक हेटमायर मैदान से बाहर अपनी टीम के पास डगआउट में पहुंच चुके थे। मगर जैसे ही तीसरे अंपायर ने नो बॉल का इशारा किया, तो ये फैसला देखते ही बल्लेबाज खुशी से उछल पड़े और तुरंत मैदान के अंदर आ गए।

जीवनदान मिलने के बाद लगाए छक्के

Shimron Hetmyer

जीवनदान मिलने के बाद खुशी से क्रीज पर वापस लौटे Shimron Hetmyer ने मानो इस जीवनदान का पूरा फायदा उठाने का विचार बना लिया और केकेआर के गेंदबाजों पर धावा बोल दिया। इस बल्लेबाज ने लॉकी फर्ग्यूसन के एक ही ओवर में दो लंबे छक्के लगाए. लेकिन 19वें ओवर में हेटमायर ने ऐसी गलती कर दी जिसके चलते उन्हें अपना विकेट गंवाना पड़ा।

हेटमायर ने वेंकटेश के सामने एक रन भागने का प्रयास किया, लेकिन उनके सटीक थ्रो ने हेटमायर को पैवेलियन लौटने पर मजबूर कर दिया। इस तरह इस मैच में हेटमायर ने 10 गेंद पर 17 रन बनाए। बताते चलें, दिल्ली ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 136 रनों का लक्ष्य निर्धारित किया है।