dhawan
Prev1 of 3
Use your ← → (arrow) keys to browse

वक्त बीतने के साथ-साथ टी20 विश्व कप की तारीखें भी नजदीक आ रही हैं। 17 अक्टूबर से शुरु हो रहे इवेंट के लिए बीसीसीआई ने भी 15 सदस्यीय टीम का ऐलान कर दिया है। टीम में रविचंद्रन अश्विन की वापसी ने सभी को हैरान कर दिया, तो वहीं Shikhar Dhawan का नाम टीम में ना देखकर सभी को हैरानी हुई।

ऐसा माना जा रहा था कि धवन को रोहित शर्मा और केएल राहुल के बैकअप ओपनर के रूप में टीम में शामिल किया जा सकता है। लेकिन जब टीम सामने आई, तो उसमें उनका नाम शामिल नहीं था। बल्कि चेतन शर्मा ने बयान देते हुए ईशान किशन को बैकअप ओपनर बताया।

लेकिन क्रिकेट के गलियारों में लगातार इस बात पर चर्चा हो रही है कि गब्बर टी20 विश्व कप टीम में चयन के हकदार थे। तो आइए इस आर्टिकल में हम आपको उन 3 कारणों के बारे में बताते हैं, जिसके चलते धवन टीम में डिजर्व करते थे जगह।

            Shikhar Dhawan डिजर्व करते थे टीम में जगह

1- अच्छी स्ट्राइक रेट से बना रहे थे रन

Shikhar Dhawan

भारत के सलामी बल्लेबाज Shikhar Dhawan ने पिछले कुछ वक्त में अपनी स्ट्राइक रेट में काफी सुधार किया है। यदि आप उनके पिछले 2 सालों के आईपीएल आंकड़ों पर गौर करें, तो धवन ने यूएई में खेले गए आईपीएल 2020 में बैक टू बैक दो शतकों के साथ 618 रन बनाए थे।

इस दौरान उनका स्ट्राइक रेट 144.73 का था। वह सीजन में सर्वाधिक रन बनाने वाले खिलाड़ियों की लिस्ट में दूसरे स्थान पर रहे थे। वहीं आईपीएल 2021 के शुरुआती भाग में उन्होंने 8 मैचों में 134.27 की स्ट्राइक रेट से 380 रन बनाए थे। धवन चयन के हकदार थे, क्योंकि वह टी20 फॉर्मेट में लगातार अच्छा प्रदर्शन कर रहे थे।

आईसीसी इवेंट का आयोजन यूएई में होना है, जहां, पिछली बार आईपीएल खेला गया था और वहां धवन का बल्ला जमकर बोला था। इसके बावजूद चयनकर्ताओं ने धवन की अनदेखी कर दी।

Prev1 of 3
Use your ← → (arrow) keys to browse