EEhvtaDXoAI3azh

एशेज सीरीज 2019 के पांचवे मैच में इंग्लैंड की टीम ने 135 रनों की बड़ी जीत दर्ज करके सीरीज को 2-2 से बराबर कर दिया है. लेकिन उसके बाद भी ऑस्ट्रेलिया की टीम जश्न मना रही है. इसके साथ ही एशेज की ट्रॉफी भी ऑस्ट्रेलिया के पास ही बरक़रार रहेगी. जिसके कारण लोगो के मन में बड़ा सवाल उठ रहा है की सीरीज ड्रा के बाद ऑस्ट्रेलिया के पास ट्रॉफी कैसे रहेगी.

कई सालों बाद ड्रा हुई एशेज सीरीज 

EEjP1IEW4AET7cS

पांचवे मैच में इंग्लैंड के जीत दर्ज करते ही 2019 का एशेज सीरीज ड्रा हो गया. आखिरी मैच ने ऑस्ट्रेलिया के कप्तान ने पहले गेंदबाजी करने का फैसला लिया था. जो चौथी पारी में गलत साबित हुआ. मैथ्यू वेड के शानदार शतक के बाद भी ऑस्ट्रेलिया की टीम मैच 135 रनों से हार गयी.

इस सीरीज का पहला मैच ऑस्ट्रेलिया के जीता था. जबकि दूसरा मैच ड्रा हो गया. तीसरे मैच में इंग्लैंड की टीम ने शानदार वापसी करते हुए जीत दर्ज की. जबकि चौथे मैच में ऑस्ट्रेलिया की टीम ने 185 रनों से जीत दर्ज करके बढ़त बनाई जिसे आखिरी मैच में इंग्लैंड की टीम ने बराबर कर दिया.

ऑस्ट्रेलिया के पास इस वजह से है एशेज सीरीज की ट्रॉफी 

सीरीज के ड्रा होने के बाद सबसे बड़ा सवाल उठ रहा है की ट्रॉफी ऑस्ट्रेलिया के पास क्यों है? जिसका सबसे बड़ा कारण है की एशेज सीरीज में ये नियम है की यदि सीरीज ड्रा हुई तो ट्रॉफी उसी के पास बनी रहेगी जिसके पास सीरीज शुरू होने के पहले थी.

आपको बता दे की 2017 के एशेज सीरीज में ऑस्ट्रेलिया की टीम ने इंग्लैंड को 4-0 से अपने घर में हराया था. पिछली बार एशेज सीरीज ड्रा 1972 में हुई थी, जब सीरीज 2-2 से ही बराबर हो गई थी. उस समय ट्रॉफी इंग्लैंड के पास बरक़रार रही थी.

स्टीव स्मिथ के नाम रही एशेज 

EEhvtMAXoAEdR3s

इंग्लैंड के लिए इस एशेज में बेन स्टोक्स ने 441 रन बनाये 55.12 के औसत से और इसके साथ ही उन्होंने 8 विकेट भी हासिल किए. वहीं स्टीव स्मिथ ने ऑस्ट्रेलिया के लिए 4 मैच की 7 पारियां खेली. जिसमें 110.57 के शानदार औसत से 774 रन बनाये. जो साफ़ बताता है की इस बार का एशेज स्टीव स्मिथ के नाम रहा.

Leave a comment

Your email address will not be published.