shane warne

Shane Warne Death: 4 मार्च 2022 की शाम क्रिकेट जगत के लिए एक बेहद दुखद और चौंका देने वाली खबर लेकर आई। ऑस्ट्रेलिया के लिजेंड लेग स्पिन गेंदबाज शेन वॉर्न (Shane Warne) ने दुनिया को अलविदा कह दिया है। बॉल ऑफ द सेन्चुरी डालने वाले इस दिग्गज खिलाड़ी की मौत ने हर क्रिकेट फैन को स्तब्ध कर दिया। क्रिकेट के इतिहास में सबसे बेहतरीन किरदार शेन वॉर्न 52 साल की उम्र में संदिग्ध हार्ट अटैक के चलते अब हमारे बीच नहीं है।

Shane Warne की जिंदगी के आखिरी 20 मिनट

shane ware

शेन वॉर्न (Shane Warne) के निधन की जानकारी उनके मैनेज मेंट ने दी थी। ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज अपने दोस्तों के साथ छुट्टियां थाईलैंड में छुट्टियां मना रहे थे। जानकारी के अनुसार वॉर्न के साथ एक प्राइवेट विला में 3 दोस्त मौजूद थे। वॉर्न की सांसे थमने से पहले करीब 20 मिनट तक उनको बचाने की कोशिश की थी। लेकिन वे उनको बचाने में नाकामयाब रहें, इसके बाद मामलें की जानकारी थाइलैंड पुलिस को दी गई।

पुलिस की ओर से जारी किए गए बयान के अनुसार शेन वॉर्न (Shane Warne) और उनके 3 दोस्त एक प्राइवेट विला में रुके हुए थे। रात के खाने के समय जब काफी देर तक वॉर्न खान खाने के लिए नीचे नहीं आए तो उनके एक दोस्त ने उनके कमरे में जाकर उनको देखा, जहां वॉर्न अचेत अवस्था में पाए गए। उनको इस हालत में देखकर उनके दोस्त घबरा गए और वॉर्न को चेतना में लाने की कोशिश की गई। CPR के जरिए भी उनकी जान बचाने की कोशिश की गई। लेकिन तब तक विश्व क्रिकेट के जादूगर दुनिया को अलविदा कह चुके थे।

Shane Warne की बॉडी को लाया जाएगा ऑस्ट्रेलिया

shane warne fights andrew hudson

शेन वॉर्न (Shane Warne) के पार्थिव शरीर को अब थाईलैंड से उनके देश ऑस्ट्रेलिया लाया जाएगा। ऑस्ट्रेलिया के विदेश मंत्री मारिस पायने ने वॉर्न के साथ मौजूद दोस्तों के साथ बातचीत की है। इसके बाद वॉर्न की बॉडी को अपने देश लाने की कोशिश की जा रही है। विदेश मंत्री की ओर से कहा गया कि वे थाई प्रशासन से बात हुई है, जल्द से जल्द वॉर्न के पार्थिव शरीर को ऑस्ट्रेलिया लाया जाएगा।

Shane Warne को कहते हैं गेंदबाजी का जादूगर

shane warne fights andrew hudson 1994 johannesburg test south africa vs australia

शेन वॉर्न (Shane Warne) की जादुई गेंदबाजी की मिसाल सदियों तक दी जाएगी, उन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट में 1001 विकेट विकेट लेने का कारनामा किया है। 90 के दशक के दौरान ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट में उनके योगदान को कभी नहीं भुलाया जा सकेगा। अपने करियर के दौरान शेन वॉर्न ने बड़े से बड़े रुतबे वाले बल्लेबाजों को परेशान किया है। कई बल्लेबाज तो वॉर्न के हाथ में गेंद देखते ही सहम जाते थे। क्रिकेट की दुनिया के इस सितारे ने सभी क्रिकेट फैंस के दिल और दिमाग पर अमिट छाप छोड़ी है।