shane warne on steve smith vice captaincy
shane warne on steve smith vice captaincy

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने एशेज सीरीज से पहले पैट कमिंस को टेस्ट कप्तान और स्मिथ को उप-कप्तान घोषित किया गया है. उन्हें लेकर अब शेन वॉर्न (Shane Warne) ने बड़ी प्रतिक्रिया दी है. टिम पेन के अचानक से इस्तीफा सौंपने के बाद पैट कमिंस को कप्तानी की जिम्मेदारी सौंपी गई है. 65 साल में ऐसा पहली बार हुआ है जब किसी तेज गेंदबाज को टीम की कप्तानी सौंपी गई है. वहीं टीम के पूर्व कप्तान रहे स्टीव स्मिथ (Steve Smith) को उप-कप्तान बनाया गया है. इस फैसले से कई दिग्गज खिलाड़ी नाराज हैं.

गंभीर सजा देने के बाद भी स्मिथ को कैसे बनाया गया उपकप्तान

shane warne on steve smith

दरअसल स्मिथ को लेकर लिए गए फैसले से ऑस्ट्रेलिया के पूर्व लेग स्पिनर शेन वॉर्न (Shane Warne) भी काफी नाराज हैं. दक्षिण अफ्रीका दौरे पर बॉल टेम्परिंग मामला सामने आने के बाद स्मिथ को एक साल के लिए बैन कर दिया गया था. उन्होंने बाद में इंटरनेशनल क्रिकेट में वापसी की. लेकिन, वह किसी फॉर्मेट में टीम के कप्तान या उप-कप्तान दोबारा से नहीं बनाए गए थे. लेकिन, अब उन्हें ये जिम्मेदारी सौंपी गई है.

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व लेग स्पिनर ने यह भी खुलासा किया कि वो किस खिलाड़ी को उप-कप्तान के तौर पर देखना चाहते हैं. उन्होंने कहा कि वह मार्नस लाबुशैन को ऑस्ट्रेलिया के अगले टेस्ट उप-कप्तान के रूप में देखना चाहते हैं. उन्होंने इस मसले पर द हेराल्ड सन के लिए अपने कॉलम में लिखा,

‘स्टीव स्मिथ से सभी प्यार करते हैं सबको स्मिथ पर गर्व है कि वह वर्ल्ड में टेस्ट क्रिकेट में टॉप के बल्लेबाज होंगे. गलती सभी से होती है. लेकिन स्टीव स्मिथ को गंभीर सजा दी गई थी.’

स्मिथ को उपकप्तान बनाना एक मजाक है- वॉर्न

shane warne

इस सिलसिले में शेन वॉर्न (Shane Warne) ने आगे लिखा,

“हम सब सैंडपेपर-गेट से आगे बढ़ चुके हैं. लेकिन स्टीव स्मिथ की कप्तानी में ऐसा हुआ. उन्होंने अपनी कप्तानी में ऐसा होने दिया. मुझे लगता है कि उन्हें जो सजा दी गई थी वह बहुत गंभीर थी जो मैंने उस समय कही थी. उन्होंने अपनी गलती की बहुत बड़ी कीमत चुकाई.”

आखिर में उन्होंने लिखा,

“लेकिन उन्हें ऑस्ट्रेलिया के लिए खेलने का दूसरा मौका मिला है. मेरी राय में उन्हें उप-कप्तान बनाना एक मजाक है और इसके लिए क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया की खूब निंदा होगी. उन्हें आचार संहिता को बाहर फेंक देना चाहिए.”

इसके साथ पूर्व क्रिकेटर ने कहा कि टीम में डेविड वार्नर के पास अच्छा क्रिकेट दिमाग था और उन्होंने मार्नस लाबुशैन को उप-कप्तान बनाने की मांग की.