Shane Warne IPL Achievements
Prev1 of 3
Use your ← → (arrow) keys to browse

ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज गेंदबाज शेन वॉर्न (Shane Warne) के निधन से क्रिकेट जगत को बड़ा झटका लगा है, सिर्फ 52 साल की उम्र में शेन वॉर्न के अचानक इस तरह दुनिया को अलविदा कहने पर क्रिकेट से जुड़े लोगों को यकीन करना मुश्किल हो रहा है। शेन वॉर्न को उन खिलाड़ियों की लिस्ट में रखा जाता है जिन्होंने क्रिकेट खेलने के तरीके और अपने अंदाज से क्रिकेट प्रेमियों के दिल और दिमाग में अमिट छाप छोड़ी है। सिर्फ ऑस्ट्रेलिया ही नहीं बल्कि भारत में भी स्पिन गेंदबाजी के जादूगर के करोड़ों चाहने वाले हैं।

शेन वॉर्न (Shane Warne) को क्रिकेट इतिहास का अबतक का सबसे बड़ा स्पिन गेंदबाज माना जाता है। अगर कभी 140 साल के क्रिकेट के इतिहास की बेस्ट प्लेइंग XI बनाई जाएगी तो उसमें शेन वॉर्न का नाम होना लाजमी है, अपने इंटरनेशनल करियर में 1001 विकेट और ‘बॉल ऑफ द सेन्चुरी’ डालने वाले इस खिलाड़ी का भारत की सबसे लोकप्रिय क्रिकेट लीग आईपीएल से खास नाता रहा है। इस लेख के जरिए हम आपको शेन वॉर्न की आईपीएल से जुड़ी 3 खास उपलब्धियों के बारे में बताने वाले हैं।

1. रवींद्र जडेजा को दिया ‘रॉकस्टार’ का नाम

When Shane Warne identified 'Rockstar' Jadeja as 'special talent, superstar in the making' during IPL 2008 | Cricket - Hindustan Times

टीम इंडिया के मौजूदा समय के सबसे बेहतरीन ऑल राउंडर रवींद्र जडेजा (Ravindra Jadeja) के हुनर की पहचान शेन वॉर्न ने साल 2008 में ही कर दी थी। उस समय जडेजा 19 साल के युवा खिलाड़ी थे। मलेशिया में U19 विश्व कप विजेता भारतीय पक्ष का हिस्सा होने के बाद, जडेजा को राजस्थान रॉयल्स द्वारा तैयार किया गया, जिन्होंने उन पर बहुत विश्वास दिखाया। इसमें शेन वॉर्न का अहम रोल था।

एक बातचीत के दौरान रवींद्र जडेजा का जिक्र करते हुए शेन वॉर्न (Shane Warne) ने उनको रॉकस्टार कहा था। अपने कप्तान के द्वारा दिए गए इस टैग को रवींद्र जडेजा ने सही साबित किया। आज के समय में रवींद्र जडेजा वाकई में रॉकस्टार की तरह प्रदर्शन करते हैं। टीम इंडिया में रवींद्र जडेजा की भूमिका बेहद अहम है, भारत और श्रीलंका के बीच जारी मोहाली टेस्ट में जडेजा ने 175 रनों की नाबाद पारी खेल कर इस बात का सबूत भी दिया है।

Prev1 of 3
Use your ← → (arrow) keys to browse