sanju samson

श्रीलंका के साथ खेले गए तीसरे व सीरीज निर्णायक मुकाबले में टीम इंडिया की बल्लेबाजी इकाई ने बेहद निराशाजनक प्रदर्शन किया। टीम में 3 बल्लेबाज तो बिना खाता खोले ही आउट हो गए। जिसमें कप्तान शिखर धवन, संजू सैमसन (Sanju Samson) व वरुण चक्रवर्ती का नाम शामिल रहा। मैच में सैमसन के आउट होने के साथ ही उनका टी20 विश्व कप खेलने का सपना भी चूर-चूर हो गया है।

Sanju Samson का टूटा विश्व कप खेलने का सपना

smason

अनुभवी विकेटकीपर-बल्लेबाज Sanju Samson के लिए अक्सर ये बात कही जाती रही है कि वह बहुत ही टैलेंटेड प्लेयर हैं, मौका मिलने की देरी है। लेकिन श्रीलंका दौरे पर सैमसन एक बार फिर मिले हुए मौकों को भुनाने में नाकामयाब रहे। तीसरे ODI मैच में उन्हें डेब्यू करने का मौका मिला, जिसमें उन्होंने 46 (46) रन पर विकेट गंवाया।

इसके बाद बात आई T20I सीरीज की। जिसमें वह पहले व दूसरे मैच में क्रमश: 27, 7 रन पर आउट हुए। वहीं तीसरे मैच में तो वह बिना खाता खोले ही आउट हो गए। कुल मिलाकर सैमसन श्रीलंका दौरे पर प्रभावित करने में नाकामयाब रहे। इसके बाद अब ये कहना गलत नहीं होगा की अब उनका टी20 विश्व कप खेलने का सपना टूट चुका है, क्योंकि ये इस खिलाड़ी के पास मेगा इवेंट में चुने जाने की दावेदारी पेश करने के लिए आखिरी मौका था, जिसका वह फायदा नहीं उठा सके।

आईपीएल में भी रन बनाने का नहीं होगा फायदा

Sanju Samson

श्रीलंका दौरे पर निराश करने के बाद अब Sanju Samson के पास टी20 विश्व कप टीम के लिए अपनी दावेदारी पेश करने का कोई मौका नहीं बचा है। दरअसल, इसके बाद भारत को कोई सीमित ओवर सीरीज नहीं खेलनी है। वैसे तो टी20 विश्व कप 17 अक्टूबर से शुरु होगा, लेकिन इसके लिए टीम का ऐलान कम से कम 45 दिन पहले ही होगा। इसलिए यदि वह आईपीएल 2021 के यूएई लेग में अच्छा प्रदर्शन भी करते हैं, तो भी उनका टी20 विश्व कप टीम में शामिल होने की उम्मीद ना के बराबर है।

सैमसन आईपीएल का बड़ा नाम हैं। राजस्थान रॉयल्स के कप्तान ने आईपीएल 2021 में पहले मैच में शतकीय पारी खेली थी। वहीं यदि उनके ओवरऑल आईपीएल आंकड़ों की बात करें, तो 114 मैचों में 28.89 के औसत के साथ 2861 रन बना चुके हैं। इस दौरान उनके बल्ले से 3 शतक निकल चुके हैं।

ईशान किशन होंगे बैकअप विकेटकीपर?

Sanju Samson

श्रीलंका दौरे पर Sanju Samson के फ्लॉप शो के बाद अब युवा विकेटकीपर-बल्लेबाज ईशान किशन को टी20 विश्व कप में बतौर रिजर्व विकेटकीपर चुना जा सकता है। अब तक ना केवल ईशान ने घरेलू स्तर पर और आईपीएल में खुद को साबित किया है। बल्कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भी उन्होंने मौकों को अच्छी तरह भुनाया है। श्रीलंका दौरे पर भी उन्होंने शानदार बल्लेबाजी की। हालांकि वह T20I सीरीज के आखिरी दो मैचों का हिस्सा नहीं रह सके, क्योंकि वह क्रुणाल पांड्या के संपर्क में आने वाले 8 खिलाड़ियों में शामिल थे।