Team India

IND vs SA 2021-22: भारत और साउथ अफ्रीका (IND vs SA) के बीच खेले जा रहे 3 मैचों की वनडे सीरीज के दूसरे मुकाबले में 7 विकेट की हार के साथ ही टीम इंडिया (Team India) के साथ से वनडे सीरीज भी निकल गयी. टेस्ट सीरीज में हार के बाद वनडे सीरीज में टीम इंडिया (Team India) से एक बेहतर वापसी की उम्मीद थी. लेकिन भारतीय टीम खेल के सभी क्षेत्रों में मेजबान टीम के सामने पिछड़ते ही नजर आई. पिछले कई सालों से टीम इंडिया की सबसे मजबूत पक्ष रही स्पिन गेंदबाजी ने इस दौरे पर काफी निराश किया. जिसके बाद पूर्व क्रिकेटर संजय मांजरेकर (Sanjay Manjrekar) ने एक बड़ा बयान दिया है.

स्पिन गेंदबाजी बनी चिंता की वजह

Team India

एक समय में टीम इंडिया (Team India) की सबसे मजबूत पक्ष मानी जाने वाली स्पिन गेंदबाजी अब टीम की सबसे बड़ी चिंता की कारण बन गयी है. पार्ल में खेले गए IND vs SA दूसरे वनडे मैच में भी कुछ ऐसा ही देखने को मिला. स्पिन के लिए मदगार पिच पर जहाँ साउथ अफ्रीकन स्पिन गेंदबाज काफी बेहतर दिखे. वहीं, टीम इंडिया के दोनों स्पिनर रविचंद्रन अश्विन (Ravichandran Ashwin) और युजवेंद्र चहल (Yuzvendra Chahal) बिलकुल बेअसर नजर आये.

लगभग 4 सालों के बाद वनडे क्रिकेट में वापसी कर रहे अश्विन ने दोनों मैच में ज्यादा अच्छी गेंदबाजी नहीं की है. दुसरे मैच में दोनों ही गेंदबाज बीच के ओवरों में विकेट लेने की बात तो दूर, बल्कि रन रोकने में भी असफल रहे. अश्विन ने जहाँ अपने 10 ओवर में 68 रन लुटाये. वहीं, चहल ने 10 ओवर में 47 रन खर्च कर 1 सफलता हासिल की. जिसके बाद टीम इंडिया (Team India) के पूर्व खिलाड़ी और कमंटेटर संजय मांजरेकर (Sanjay Manjrekar) ने अश्विन को टीम से बाहर करने की मांग की है, और उनकी जगह कुलदीप यादव को टीम में वापस लाने की बात कही है.

कुलदीप यादव को मिलना चाहिए दुबारा मौका: संजय मांजरेकर

Team India

टीम इंडिया (Team India) की दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ वनडे सीरीज में हार के बाद क्रिकेटर से कमेंटेटर बने संजय मांजरेकर ने रविचंद्रन अश्विन को टीम में वापस लाने के राष्ट्रीय चयनकर्ताओं के विचार की आलोचना की. मांजरेकर ने कहा कि, अश्विन गेंदबाजी की लय में नहीं है, मुझे नहीं लगता की चयनकर्ताओं को तीसरे मैच में उन्हें खिलाना चाहिए, उनकी जगह दूसरे खिलाड़ी को मौका देना चाहिए. ईएसपीएन क्रिकइंफो ने मांजरेकर के हवाले से कहा,

ऐसा नहीं है कि उन्होंने वापसी के लिए कोई अच्छा खेल खेला है. उम्मीद है, अब भारत को एहसास होगा कि उसके पास कोई ऐसा स्पिनर नहीं है, जो खेल के रुख को बदल सके. भारत को बीच के ओवरों को सुलझाने के लिए कुलदीप यादव (Kuldeep Yadav) को वापस लाना चाहिए. टीम इंडिया को बीच के ओवर में विकेट लेने वाला गेंदबाज चाहिए और अश्विन के पास इसका लंबा ट्रैक रिकॉर्ड है, लेकिन युजवेंद्र चहल (Yuzvendra Chahal) सफेद बॉल के लिए एक सफल गेंदबाज रहे हैं.