सचिन तेंदुलकर

क्रिकेट से एक साल दूर रहने के बाद किसी भी खिलाड़ी के लिए वापसी करना बिल्कुल भी आसान नहीं होता है. उसके बाद जब आपकी छवि लोगो के बीच ख़राब हो तो और भी मुश्किल हो जाता है. लेकिन यदि आप मानसिक रूप से मजबूत हो तो कुछ भी मुश्किल नहीं है. ये बात ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान स्टीव स्मिथ ने एशेज सीरीज में साबित कर दिया है.

इंग्लैंड के गेंदबाजो के लिए अबूझ पहेली बन गये हैं स्टीव स्मिथ

अब तक स्टीव स्मिथ ने एशेज में मात्र 4 पारियां ही खेली हैं. इंग्लैंड के गेंदबाज अभी भी ये समझ नहीं पा रहे हैं की स्टीव स्मिथ को जल्द कैसे आउट किया जाये. पहले टेस्ट मैच में उन्होंने शानदार वापसी की और मैच कि दोनों पारियों में शतक जड़ दिया. इसके बाद दुसरे मैच में भी वो मात्र एक पारी खेले.

जिनमें स्मिथ के बल्ले से 92 रन निकले. उस मैच में लगी चोट के कारण पहले वो दूसरी पारी नहीं खेल पायें और उसके बाद तीसरे टेस्ट मैच का हिस्सा भी नहीं बन पायें. लेकिन चौथे टेस्ट मैच में वापसी करते हुए उन्होंने सबको अपनी रनों की भूख दिखा दी और मैच में आउट होने से पहले 211 रनों की शानदार पारी खेली.

सचिन तेंदुलकर ने की स्टीव स्मिथ की तारीफ

भारतीय क्रिकेट के दिग्गज और क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर ने स्टीव स्मिथ की तारीफ करते हुए अपने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट किया. जिसमें सचिन ने कहा कि

” मुश्किल तकनीक लेकिन एक संयोजित सोच यही वो है जो स्टीव स्मिथ को अलग बनाती है. अविश्वसनीय वापसी”

स्मिथ ने एशेज सीरीज में अभी तक 3 मैच की 4 पारियों में 147.25 की शानदार औसत से 589 रन बना दिए हैं. अभी भी उनके पास तीन और पारियां खेलने को मौजूद है.

आज इंग्लैंड की टीम को जल्द समेटने उतरेगी ऑस्ट्रेलिया

चौथे एशेज टेस्ट मैच की पहली पारी में ऑस्ट्रेलिया की टीम ने 8 विकेट गँवा कर 497 रन बना कर पारी घोषित की. इसके जवाब में इंग्लैंड की टीम 23 रन बना कर अपने एक सलामी बल्लेबाज का विकेट खो चुकी है. अब ऑस्ट्रेलिया की टीम जल्द से जल्द इंग्लैंड की पारी को खत्म करना चाहेगी.

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *