Sachin Tendulkar

Sachin Tendulkar: 16 मार्च यानी आज ठीक 10 साल पहले भारतीय क्रिकेट इतिहास के लिए बहुत ही खास दिन था. तब से अब तक भारतीय फैंस उस दिन को भूल नहीं पाए. क्योंकि ठीक 10 साल से पहले आज ही के दिन भारतीय टीम के पूर्व महान बल्लेबाज़ और सबसे सफल खिलाड़ी सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) ने अपने इंटरनेशनल करियर का 100वां शतक बांग्लादेश के खिलाफ मीरपुर में जड़ा था. सचिन के इस ऐतिहासिक शतक को आज तक कोई नहीं भुला सका है. लेकिन, उनके इस कारनामें के बाद भी काफी फैंस मायूसी में थे. क्या है इसकी वजह बताते हैं आपको इस आर्टिकल में….

Sachin Tendulkar का शतक नहीं दिलवा पाया था जीत

Bangladesh Cricket Team

आपको बता दें कि मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) ने उस मुकाबले में अपने अंतरराष्ट्रीय करियर का 100 वां शतक जड़कर इतिहास तो बना दिया था. लेकिन, इसकी चमक फैंस के चेहरों से गायब थी. उन्होंने बांग्लादेश के खिलाफ उस मुकाबले में 147 गेंदों का सामना करते हुए 114 रन की शतकीय पारी खेली थी. इस पारी में उन्होंने 12 चौके और 1 शानदार छक्का जड़ा था.

लेकिन भारतीय टीम को जितवाने के लिए वो शतक काफी नहीं था. भारतीय टीम ने एशिया कप के उस मुकाबले में पहले बल्लेबाज़ी करते हुए 5 विकेट के नुकसान पर 289 रन स्कोरबोर्ड पर लगाए थे. जिसमें सचिन के साथ-साथ विराट कोहली और सुरेश रैना ने भी 66 और 51 रन की ज़बरदस्त पारी खेली थी. लेकिन, इसके बावजूद टीम इंडिया को हार का सामना करना पड़ा था. ये बड़ा कारण था कि काफी फैंस उनकी इस धीमी पारी से खुश नहीं थे.

वहीं 289 रन के मिले लक्ष्य के जवाब में उतरी बांग्लादेश टीम ने काफी ताबड़तोड़ बल्लेबाज़ी की थी. तमीम इकबाल के 70, जहरूल इस्लाम के 53, नासिर हुसैन के 54, शाकिब अल हसन के 49, और कप्तान मुश्फिकुर रहीम के 46 रन की पारी की बदौलत बांग्लादेश ने इस मुकाबले को 49. 2 ओवर में ही 5 विकेट से अपने नाम कर लिया था.

सचिन का 100वां शतक का रिकॉर्ड तोड़ना है मुश्किल

Sachin Tendulkar

सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) ने जो 100 शतक का रिकॉर्ड इंटरनेशनल क्रिकेट में बनाया है, वो बिल्कुल भी आसान काम नहीं है. सचिन ने टेस्ट में 51 जबकि वनडे क्रिकेट में 49 शतक जड़े थे. विश्व के महान बल्लेबाज़ जैसे रिकी पोंटिंग, ब्रायन लारा, सनथ जयसूर्या भी इस रिकॉर्ड को नहीं तोड़ पाए.

इसी के साथ अगर इंटरनेशनल क्रिकेट में सचिन तेंदुलकर के बाद सबसे ज़्यादा शतक जड़ने की लिस्ट की बात करें तो उसमें दूसरे स्थान पर ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान और स्टाइलिश बल्लेबाज़ रिकी पोंटिंग हैं, जिन्होंने अपने करियर में 71 शतक जड़े हैं. हालांकि वो अब संन्यास ले चुके हैं और इसी के साथ इस रेस से भी बाहर हो गए हैं. लेकिन, तीसरे स्थान पर मौजूद हैं भारतीय टीम के पूर्व कप्तान और रन मशीन विराट कोहली जिनके नाम अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 70 शतक हैं.

कुछ समय पहले ऐसे कयास लगाए जा रहे थे कि विराट गॉड ऑफ़ क्रिकेट कहलाए जाने वाले सचिन तेंदुलकर का रिकॉर्ड आसानी से तोड़ देंगे. लेकिन, नवंबर 2019 के बाद उनके बल्ले से एक भी शतक नहीं निकला. ऐसे में अब उनकी उम्र को देखते हुए यही लगता है कि सचिन का रिकॉर्ड तोड़ पानी लगभग नामुमकिन ही है.

One reply on “आखिर सचिन तेंदुलकर के 100 शतक के बाद भी क्यों खुश नहीं थे फैंस? आज ही के दिन बनाया था ना टूट पाने वाला रिकॉर्ड”

Comments are closed.