Ruturaj Gaikwad-MOM

चेन्नई सुपर किंग्स और दिल्ली कैपिटल्स (CSK vs DC) के बीच खेला गया प्लेऑफ का पहला मुकाबला बेहद रोमांचक रहा. रूतुराज गायकवाड़ (Ruturaj Gaikwad) इस मैच के हीरो रहे. हालांकि वो फिनिशिंग से चूक गए. लेकिन, उन्होंने एक बेहतरीन पारी जरूर खेली. इस मैच में एमएस धोनी (MS Dhoni) ने टॉस जीतकर पहले फिल्डिंग का फैसला करते हुए ऋषभ पंत (Rishabh Pant) को बल्लेबाजी का न्योता दिया था. परिणामस्वरूप पहले बल्लेबाजी करने उतरी दिल्ली कैपिटल्स ने 5 विकेट के नुकसान पर 173 रन का लक्ष्य खड़ा किया था. जिसका पीछा करने उतरी चेन्नई इस मुकाबले को 4 विकेट से अपने नाम करते हुए फाइनल में जगह पक्की कर ली.

दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ गायकवाड़ ने खेली शानदार अर्धशतकीय पारी

Ruturaj Gaikwad

इस मुकाबले में कई बार ऐसी परिस्थितियां देखने को मिलीं जब लगा कि चेन्नई ने इस मैच को गंवा दिया है. लेकिन, हां-ना हां-ना में आखिर में सीएसके ने फैंस को वो खुशी दे ही दी जिसका इंतजार स्डेटियम में मौजूद उनके चाहने वाले कर रहे थे. इस जीत के बाद दर्शकों के चेहरे पर एक खास मुस्कान देखने को मिली. जो माही की बदौलत टीम ने हासिल किया है. आज वाकई एमएस धोनी ने उस स्थिति में खुद को प्रूफ कर दिखाया जो बीते लंबे वक्त से नहीं हो पा रहा था. यह बात कप्तान ने खुद भी स्वीकार की है.

हालांकि पहला विकेट जल्दी गिरने के बाद सलामी बल्लेबाज रूतुराज गायकवाड़ (Ruturaj Gaikwad) ने अच्छी पारी खेली. पिछले दो मुकाबलों में वो बल्ले से रन नहीं बना सके थे. लेकिन, उनके वापसी की उम्मीद हर किसी को थी जिस पर वो खरे भी उतरे. उन्होंने एक तरफ से टीम का मोर्चा संभाले रखा. दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ उन्होंने 50 गेंदों का सामना करते हुए 5 चौके और 2 गगनचुंबी छक्कों की मदद से 70 रन की बेहतरीन पारी खेलते हुए मैन ऑफ द मैच का खिताब अपने नाम कर लिया.

MOM बनने के बाद कप्तान और अपने को लेकर सलामी बल्लेबाज ने कही बड़ी बात

photo 2021 10 11 00 32 32

दिल्ली कैपिटल्स के के खिलाफ जीत के बाद मिले मैन ऑफ द मैच के सम्मान के बारे में मैच प्रजेंटेशन में बात करते हुए चेन्नई के सलामी बल्लेबाज रूतुराज गायकवाड़ (Ruturaj Gaikwad) ने कहा कि,

“(बड़े खेल से पहले सोचना) यह सामान्य है. पूरे टूर्नामेंट में आप जो भी सामान्य दिनचर्या का पालन कर रहे हैं उसका सामना करते हुए न्यूट्रल रहने का प्रयास करें. हर गेम को आप 0 से शुरू करते हैं इसलिए फिर से शुरू करना और नए सिरे से शुरुआत करना और चुनौती के लिए तैयार रहना महत्वपूर्ण है. पावरप्ले एक अहम चरण था और विकेट थोड़ा सा पकड़ रहा था. हमें अच्छी शुरुआत करनी थी. रॉबिन ने वास्तव में अच्छी बल्लेबाजी की. उन्होंने गेंदबाजों का सामना किया और मेरे लिए अंत तक टिके रहना और पूरी पारी में बल्लेबाजी करना थोड़ा आसान हो गया. कई बार आपको कुछ खतरनाक जोखिम उठाने पड़ते हैं.”

आगे उन्होंने कहा कि,

“मैं 2-3 ओवर को लेकर प्लानिंग बनाता हूं. सोचता हूं कि किसके गेंदबाजी करने की संभावना है और मैं किसे बड़ी-छोटी बाउंड्री के लिए बेहतर निशाना बना सकता हूं. इसके लिए आपको पूरी तरह से स्पष्ट होना होगा. हर बार धोनी मुझे प्रोत्साहित करने और हर खेल की नई शुरुआत करने के लिए प्रेरित करते हैं. हर खेल से सीखें और आगे बढ़ें. उन्होंने कहा कि कोशिश करो और खेल खत्म करो. जो अच्छे खिलाड़ियों को सामान्य खिलाड़ियों से अलग करता है. मैं बस जितना संभव हो उतना सीखना चाहता हूं जब तक वह यहां हैं और विनम्र बने रहें.”