Rohit Sharma

Rohit Sharma: बांग्लादेश और भारत के बीच 3 मैचों की रोमांचक वनडे श्रृंखला का दूसरा मुकाबला 7 दिसंबर बुधवार को मीरपुर के शेर ए बांग्ला स्टेडियम में खेला जा रहा है. जिसमें बांग्लादेश ने भारत को 5 रनों से मुकाबला हराकर 2-0 से सीरीज़ भी अपने नाम कर ली. हालांकि चोटिल होने के बावजूद रोहित शर्मा अंत में बल्लेबाज़ी करने आए और एक तूफानी अर्धशतक जड़कर भारत को मैच जिताने की पूरी कोशिश की. वहीं अब मैच गंवाने के बाद हिटमैन (Rohit Sharma) ने बड़ा बयान दिया है.

मैच गंवाने के बाद Rohit Sharma ने दिया बड़ा बयान

 

Image

आपको बता दें कि कप्तान रोहित शर्मा ने अंत में आकर वनडे में 182.14 के अविश्वसनीय स्ट्राइक रेट से बल्लेबाज़ी करते हुए 28 गेंदों में शानदार 51 रन की अर्धशतकीय पारी खेली. जिसमें 3 चौके और 5 गगनचुंबी छक्के भी शामिल थे. लेकिन इसके बावजूद वह टीम को मैच जिताने से एक हिट दूर रह गए. वहीं इतनी करीब से मैच हारने के बाद कप्तान रोहित ने अपने हाथ में लगी चोट के बारे में भी बात की. उन्होंने (Rohit Sharma) कहा कि,

“यह (अंगूठे की चोट) बहुत बड़ी नहीं है. अंगूठे में बस थोड़ी अव्यवस्था है और कुछ टाँके भी आए हैं. सौभाग्य से, फ्रैक्चर नहीं था और इसलिए मैं बल्लेबाजी करने में सक्षम था. जब आप कोई मैच हारते हैं तो उसके सकारात्मक और नकारात्मक दोनों पहलू होते हैं. 69/6 होने से, उन्हें 270 तक पहुंचने की अनुमति देना हमारे गेंदबाजों द्वारा अच्छा प्रदर्शन नहीं था. हमने अच्छी शुरुआत की लेकिन बीच के ओवर और बैक एंड से हमें काफी नुकसान हो रहा है. पिछले मैच में भी यही हुआ था.”

“यह ऐसी चीज है जिस पर हमें काम करने की जरूरत है”

Rohit Sharma

कप्तान रोहित शर्मा ने आगे अपनने बयान में इस बात का भी ज़िक्र किया कि उन्हें साझेदारी तोड़ने पर काम करना होगा. उन्होंने कहा कि मेहदी हसन और महमदुल्लाह ने अच्छी साझेदारी की लेकिन हमे ऐसी साझेदारियों को तोड़ने पर काम करना होगा. रोहित (Rohit Sharma) ने कहा कि,

“यह ऐसी चीज है जिस पर हमें काम करने की जरूरत है. महेदी और महमूदुल्लाह से कोई क्रेडिट नहीं लेना चाहता उनकी शानदार साझेदारी थी लेकिन हमें ऐसी साझेदारियों को तोड़ने के तरीके भी खोजने होंगे. एक दिवसीय क्रिकेट में, साझेदारियां सबसे महत्वपूर्ण होते हैं और जब आप उन्हें प्राप्त करते हैं, तो आपको यह सुनिश्चित करना होगा कि वे मैच जीतने वाली साझेदारी में परिवर्तित हो जाएं. उन्होंने यही किया. अगर आपको वे 70 रन की साझेदारी मिलती है, तो आपको टीम को गेम जीतने के लिए उन्हें 110-120 रन की साझेदारी में बदलने की जरूरत है, क्योंकि नए बल्लेबाज के लिए यह आसान नहीं है.”

दीपक चाहर पर साधा निशाना

Deepak Chahar

रोहित शर्मा ने आगे अपने बयान में तेज़ गेंदबाज़ दीपक चाहर पर निशाना साधते हुए बड़ा बयान दिया है. बता दें कि दीपक दूसरे वनडे में चोटिल थे. वह सही तरीके से गेंदबाज़ी नहीं कर पाए. उन्होंने सिर्फ 3 ओवर ही डाले. रोहित (Rohit Sharma) ने बिना किसी खिलाड़ी का नाम लिए दीपक चाहर के लिए इशारों-इशारों में कहा कि,

“बीच में हिम्मत दिखाने की जरूरत है. कुछ चोट संबंधी चिंताएं हैं, हमें इसकी तह तक जाने की जरूरत है. कोशिश करने और उन पर नजर रखने की जरूरत है, क्योंकि इसे समझना जरूरी है. जब वे भारत के लिए खेलने आते हैं, तो उन्हें 100 प्रतिशत से अधिक की जरूरत होती है. हमें उनके कार्यभार पर नजर रखने की जरूरत है क्योंकि हम देश के लिए खेलने के लिए खिलाड़ियों को आधा फिट नहीं रख सकते.”

 

One reply on ““हमें बहादुरी दिखाने की जरूरत थी”, बांग्लादेश में सीरीज हारने पर तिलमिलाए Rohit Sharma, इन 3 खिलाड़ियों पर फोड़ा हार का ठीकरा”

Comments are closed.