rohit sharma indian team

भारत और इंग्लैंड के बीच खेली जा रही पांच टेस्ट मैचों की सीरीज अभी 1-1 से बराबर चल रही है। अगर सीरीज के शुरूआती तीन मैचों पर नजर डाले तो अभी तक भारत का मध्यक्रम ज्यादा सफल नहीं हो सका है, वहीं सलामी बल्लेबाजों ने बेहतर प्रदर्शन किया है। वैसे बता दें सीरीज में केएल राहुल के जोड़ीदार रोहित शर्मा (Rohit Sharma) ने बतौर टेस्ट ओपनर जबरदस्त प्रदर्शन किया है।

उन्होंने अभी तक सीरीज में धैर्य और अपनी तकनीक का अच्छा नमूना पेश किया है। रोहित शर्मा की टेस्ट में कामयाबी को देखकर कई लोग हैरान हैं। उनके अच्छे प्रदर्शन के बाद एक ट्विटर यूजर ने उनसे जुड़ा एक दिलचस्प आंकड़ा भी बताया जिसके बारे में शायद ही किसी को पता होगा।

भारत की तरफ से Rohit Sharma का बल्लेबाजी औसत सबसे अच्छा

rohit sharma india

इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज के शुरूआती तीन मैचों में रोहित शर्मा (Rohit Sharma) ने भारतीय टीम को एक छोर से रन बना कर दिए हैं। रोहित ने अभी तक नई गेंद के सामने भारत को कभी निराश नहीं किया है और यही कारण है कि वह सीरीज में भारत की तरफ से सर्वाधिक औसत से रन बनाने वाले बल्लेबाज बन चुके हैं।

आपको बता चाहेंगे कि रोहित ने इस सीरीज में 3 टेस्ट मैचों की 6 पारियों में 46 की शानदार औसत के साथ 230 रन बनाए हैं। इस दौरान उनके बल्ले से दो अर्धशतक भी निकले हैं। शर्मा जी का यह औसत दिखाता है कि अन्य बल्लेबाजों की तरह रोहित को इंग्लैंड के गेंदबाज ज्यादा परेशान नहीं कर सके हैं।

रोहित ने टेस्ट में बल्लेबाजी में किया सुधार

rohit sharma

Rohit Sharma स्वाभाविक रूप से आक्रामक बल्लेबाज हैं और इसका प्रभाव उनके टेस्ट करियर की शुरुआत में भी देखने को मिला था। वो हर गेंद को मारने की कोशिश में कई बार अपना विकेट आसानी से खो देते थे। हालांकि अपने दूसरे चरण में रोहित ने शानदार तरीके से धैर्य और तकनीक का परिचय देते हुए ऑफ स्टंप के बाहर जाती गेंदों को छेड़ने की कोशिश बिलकुल भी नहीं की है।

उनकी इसी काबिलियत के विषय में एक ट्विटर यूजर ने एक दिलचस्प आंकड़ा बताया। इस आंकड़े पर नजर डाले तो रोहित शर्मा ने इस सीरीज से पहले घर के बाहर 39 पारियां खेली थीं और इस दौरान सिर्फ 4 बार ही 100 से ज्यादा गेंदों का सामना किया था। जबकि इस सीरीज में रोहित ने महज 6 में से 4 पारियों में ही 100 से अधिक गेंदों का सामना किया है। यह रोहित का बतौर सलामी बल्लेबाज इंग्लैंड का पहला दौरा है।