Rohit Sharma-DC

मुंबई इंडियंस और दिल्ली कैपिटल्स (MI vs DC) के बीच बेहद रोमांचक मुकाबला खेला गया. इस मुकाबले में रोहित शर्मा (Rohit Sharma) की टीम को 4 विकेट से करारी शिकस्त का सामना करना पड़ा है. टॉस जीतकर दिल्ली के कप्तान ऋषभ पंत ने फील्डिंग करने का फैसला किया था. परिणामस्वरूप पहले बल्लेबाजी करने उतरी मुंबई टीम की शुरूआत बेहद खराब रही. निर्धारित 20 ओवर में मुंबई 8 विकेट के नुकसान पर 130 रन का लक्ष्य ही खड़ा कर सकी थी. लेकिन, इसका पीछा करने उतरी दिल्ली की भी शुरुआत डगमगा गई. हालांकि अंत तक खिलाड़ियों ने हार नहीं मानी और 4 विकेट से इस पर जीत हासिल करते हुए प्लेऑफ में जगह बना ली.

दिल्ली के खिलाफ बुरी तरह से हारी मुंबई इंडियंस

Rohit Sharma

टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी मुंबई इंडियंस की हालत काफी पस्त दिखी. बल्लेबाजी क्रम में एक भी खिलाड़ी क्रीज पर खुद को जमा नहीं सका. सौरभ तिवारी से फैंस की ज्यादा उम्मीदें बंधी. लेकिन, सलामी जोड़ी के जल्दी टूटने के बाद वो भी एक बड़ी पारी (15) खेलने से चूक गए. हालांकि सूर्यकुमार यादव जरूर आज के मुकाबले में फॉर्म में दिखे और उन्होंने कुछ बेहतरीन शॉट भी लगाए. लेकिन, फिनिशर की भूमिका निभाने से पहले ही 33 रन बनाकर चलते बने.

इसके बाद मुंबई इंडियंस एक बड़ा स्कोर खड़ा करने से चूक कई. रोहित शर्मा (Rohit Sharma) भी आज कप्तानी पारी (7) खेलने से चूक गए. हालांकि दिल्ली कैपिटल्स की भी शुरूआत अच्छी नहीं रही थी और शुरू से ही मुंबई इंडियंस के बल्लेबाजों ने दबाव बनाए रखा था. लेकिन, एक छोर से श्रेयस अय्यर संकमोचन बनकर क्रीज पर खड़े हुए थे. उन्होंने इस दौरान नाबाद 33 रन की पारी खेली. साथ रविचंद्रन अश्विन भी टीम की जीत में बल्ले से अहम योगदान दिया और 3 विकेट से जीत दिलाई.

बेहद निराशाजनक रहा प्रदर्शन- रोहित

photo 2021 10 02 20 12 40

इस मुकाबले में दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ मिली करारी हार के बाद बात करते हुए मुंबई इंडियंस के कप्तान रोहित शर्मा (Rohit Sharma) ने कहा कि,

“हम जानते थे कि यह एक कठिन मैदान होगा. हमने बहुत सारे मैच देखे, और यह खेलने और बहुत सारे रन बनाने के लिए सबसे आसान जगह नहीं है. हम अच्छी तरह से तैयार थे और हमें पता था कि हमें क्या करना है. मुझे लगा कि हमने अच्छी तरह से बल्लेबाजी नहीं की. हम जानते थे कि यह 170-180 का विकेट नहीं था. लेकिन, हमें ये पता था कि यह 140 का विकेट है”. 

आगे इसी सिलसिले में कप्तान ने यह भी कहा कि,

“हमें साझेदारी नहीं मिल रही है. अगर आपके बल्लेबाज बोर्ड पर रन नहीं बना रहे हैं तो खेल जीतना मुश्किल होगा. मैं व्यक्तिगत रूप से इसे स्वीकार करता हूं. हम बीच में अमल करने में सक्षम नहीं हैं जो विशेष रूप से निराशाजनक है. हम अपनी क्षमता के अनुसार नहीं खेल रहे हैं. उम्मीद है कि अगले दो मैचों में हम वैसे ही खेलेंगे जैसे हम हैं और जाने जाते हैं.”