N247P news image 6291405812 13568 1594353124

पूर्व भारतीय कप्तान सुनील गावस्कर ने रोहित शर्मा के फिट होकर वापसी करने पर खुशी जताते हुए कहा कि ऑस्ट्रेलिया दौरे से पहले भारतीय क्रिकेट के लिए यह सबसे अच्छी खबर है. रोहित को किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ आईपीएल मैच के दौरान पैर में हैमस्ट्रिंग में चोट लगी थी. उन्होंने मंगलवार को ही मैदान में वापसी कली थी लेकिन इस बीच उन्हें ऑस्ट्रेलिया दौरे के लिए नहीं चुना गया था.

रोहित शर्मा को मैदान पर एक फिर देखना अच्छी खबर

India v/s England: Sunil Gavaskar blasts team management for 'no preparation at all' before Tests

अपनी बल्लेबाजी का जादू बिखेर चुके इस खिलाड़ी ने ना जाने कितने गेंदबाजों के पसीने छुड़ाए हैं. वही एक समय अपने क्रिकेट और कप्तानी से टीम इंडिया को बहुत आगे ले जाने में अपनी बहुत बड़ी भूमिका निभाने वाले पूर्व भारतीय कप्तान सुनील गावस्कर ने अपने यूट्यूब चैनल ‘स्पोर्ट्स तक’ पर कहा कि

“रोहित की चोट को लेकर पहले जो कुछ भी हुआ, उसे दरकिनार करते हैं मैं यही कहूंगा कि उसका फिट होना भारतीय क्रिकेट के लिए अच्छी खबर है.”

उन्होंने यह भी कहा कि “वापसी में जल्दबाजी नहीं करने के मुख्य कोच रवि शास्त्री और बीसीसीआई प्रेसिडेंट सौरव गांगुली के सुझाव जायज थे.”

बीसीसीआई के बयान को बताया सही- सुनील गावस्कर

India, Pakistan must talk to revive cricket: Sunil Gavaskar | Cricket News | Zee News

उन्होंने बात को आगे जारी रखते बीसीसीआई के बयान को सही बताया और उन्होंने कहा कि

“सभी ने यह सोचकर चिंता जताई थी कि वापसी में जल्दबाजी करने पर चोट बढ़ सकती हैं जो जायज है. लेकिन वह आत्मविश्वास से भरपूर दिखा. उसने सीमा के पास और 30 गज के भीतर फील्डिंग की.”

“उसने मैच खेलकर यह दिखा दिया कि वह फिट है. बीसीसीआई अगर चाहे तो इसमें कुछ गलत नहीं है. वह इन सवालों में नहीं पड़ता चाहते कि टीम में वापसी पर रोहित को उप-कप्तानी मिलेगी या नहीं.” 

रोहित की उप-कप्तानी पर बोले गावस्कर

September Indian T20 League in Sri Lanka is viable option: Gavaskar

मुंबई इंडियंस के कप्तान रोहित शर्मा को ऑस्ट्रेलिया दौरे के लिए टीम इंडिया में शामिल नहीं किया है, जिसकी वजह उनकी इंजरी बताई जा रही थी लेकिन अब उन्होंने मैदान पर एक बार वापसी करके सभी जन का मुह बंद कर दिया है. जिसके बाद सुनील गावस्कर ने इस पर और उप-कप्तानी पर कहा कि

“कप्तानी, उप-कप्तानी तो कोई मसला ही नहीं होना चाहिए. अहम मुद्दा यह है कि खिलाड़ी खेलने के लिए उप्लंब्ध है या नहीं और वह है. उसने मैच से पहले दो बार कहा कि वह फिट है. कल के बारे में बात करने की बजाय आज की बात करें और आज वह फिट है.”