Rohan patil scored a century in 42 balls in the maharaja t20 league

कर्नाटक में खेली जा रही महाराजा टी20 लीग में भारतीय युवा खिलाड़ियों के द्वारा एक से बढ़कर एक बेहतरीन प्रदर्शन देखने को मिल रहे हैं। ताबड़तोड़ क्रिकेट से सजी इस लीग में गुलबर्ग मैस्टिक और मैसूरू वारीयर्स के बीच खेले गए मैच में महज 20 साल के रोहन पाटिल (Rohan Patil) ने सिर्फ 42 गेंदों का सामना करते हुए शतक जड़ने का अद्भुत कारनामा कर दिखाया है। उनकी इस पारी की बदौलत गुलबर्ग मैस्टिक को 9 विकेट से जीत हासिल करने में मदद भी मिली।

Rohan Patil ने 47 गेंदों में बनाए 112 रन

Image

20 वर्षीय रोहन पाटिल (Rohan Patil) ने क्रिकेट के मैदान में वो कारनामा कर दिखाया है जो विश्व क्रिकेट के धुरंधर बल्लेबाज भी नहीं कर पाते हैं। गुलबर्ग मैस्टिक ने इस मैच में टॉस अपने नाम करते हुए विरोधी टीम को पहले बल्लेबाजी करने का न्योता दिया था। जिसके तहत उन्होंने अपने निर्धारित 19 ओवर में 4 विकेट के नुकसान पर 160 रन बनाए हैं।

लिहाजा मैसूरु वारीयर्स को जीत के लिए 161 रनों का लक्ष्य मिला था। इसका पीछा करते हुए सलामी बल्लेबाज के तौर पर आए रोहन पाटिल ने गेंदबाजों को रिमांड पर लेना शुरू कर दिया। उन्होंने 47 गेंदों में 112 रन बनाए, इस दौरान उनके बल्ले से 11 चौके और 7 छक्के भी जड़े थे। पाटिल की इस पारी की बदौलत मैसूरु वारीयर्स ने 9 विकेट से जीत अपने नाम की।

यहां देखें वीडियो –

मनीष पांडे ने भी की Rohan Patil की तारीफ

Maharaja T20: Manish Pandey Shines As Gulbarga Mystics Win Thriller Against Shivamogga Strikers by 3 Wickets

गौरतलब है कि रोहन पाटिल (Rohan Patil) को सलामी बल्लेबाज के रूप में देवदत्त पडिक्कल की जगह टीम में शामिल किया गया था। इस मौके को दोनों हाथों से कुबूल करते हुए रोहन ने शानदार शतक जड़ा. उनकी इस बल्लेबाजी से मैसरू गुलबर्ग के कप्तान मनीष पांडे (Manish Pandey) भी उनकी तारीफ करने से खुद को रोक नहीं पाए। पांडे ने रोहन की तारीफ करते हुए कहा,

“वह (रोहन पाटिल) काफी अच्छी बल्लेबाजी कर रहे हैं, आज उन्होंने जिस तरह से बल्लेबाजी की वह अविश्वसनीय था। अगर मैदान गीला नहीं होता, तो वह कुछ और रिकॉर्ड तोड़ देता। वह हमेशा से शानदार ओपनर रहे हैं।”

One reply on “VIDEO: IPL में हुआ नज़रअंदाज तो इस T20 लीग में 20 साल के खिलाड़ी ने बरपाया कहर, 42 गेंदों में ठोका शतक”

Comments are closed.