hardik pandya

पूर्व भारतीय ऑल राउडंर रोजर बिन्नी ने मौजूदा भारतीय ऑल राउंडर हार्दिक पांड्या के प्रदर्शन पर  सवाल खड़े कर दिए हैं। उन्होंने कहा कि हार्दिक पांड्या भाग्यशाली हैं कि वो ऑल राउंडर बने हुए हैं। भारत को लंबे समय से एक बेहतरीन ऑलराउंडर की खोज थी,जो हार्दिक पांड्या पर आकर खत्म हो गई। उन्हें मौजूदा दक्षिण अफ्रीका सीरीज के लिए ट्रंप कार्ड माना जा रहा था। अफ्रीका में शानदार मौके के बाद भी वो अपना प्रभाव नहीं छोड़ पाएं।

 

अपना प्रभाव नहीं छोड़ पाए पांड्या

roger1

पूर्व क्रिकेटर रोजर बिन्नी का मानना है कि कि अफ्रीका में वो अपना खास प्रभाव नहीं छोड़ पाए। जब पूरी टीम संघर्ष कर रही थी तो उस समय उनके पास मौका था । उन्होंने बल्ले से कुछ  खास नहीं किया। टेस्ट सीरीज की पांच पारियों में उन्होंने 19.83 की औसत से 119 रन बनाए। बल्ले के साथ उन्होंने गेंदबाजी से भी कोई प्रभाव नहीं जमा पाएं।

 

भाग्यशाली हैं जो उन्हें ऑलराउंडर की तरह देखा जा रहा 

Hardik Pandya 28116

इतना ही नहीं पूर्व क्रिकेटर ने कहा कि “हार्दिक पांड्या काफी भाग्यशाली हैं,जो उन्हें अभी भी ऑलराउंडर के तौर पर देखा जा रहा है। वो प्लेइंग इलेवन में बने रखने का प्रबंध कर रहे हैं। वो अपनी बल्लेबाजी से टीम के लिए कोई सहयोग नहीं कर रहे हैं । वो गेंद के साथ छिल कर रहे हैं। इसी वजह से वो टीम में अपनी जगह को बरकरार रखने में सफल हैं।”

कपिल देव के साथ तुलना सही नहीं 

ravi shastri kapil dev and virat kohli pti 806x605 71512065728

1983 विश्वकप के विजेता कपिलदेव की टीम के अहम हिस्सा थे रोजर बिन्नी। वो कपिल देव को अच्छी तरह से जानते हैं और उनके खेल को भी। उनके साथ खेलने का अनुभव बिन्नी के पास हैं। उनका मानना है कि कपिल देव के साथ हार्दिक पांड्या की तुलना बंद होनी चाहिए।  इसके पीछे रोजर ने तर्क भी दिया। उन्होंने कहा कि “पांच दिवसीय फार्मेट में खेलने से पहले कपिल देव ने प्रथम श्रेणी क्रिकेट में शतक भी लगा चुके हैं। जबकि हार्दिक पांड्या ने एक भी शतक नहीं लगाया है।”

रोजर बिन्नी ने कहा “एक बल्लेबाज के रूप में कपिल देव और उनमें कोई समानता नहीं हैं। भारत के टेस्ट टीम में कप्तान होने से पहले कपिल ने प्रथम श्रेणी क्रिकेट में शतक जमाए थे।लेकिन पांड्या ने शीर्ष स्तर पर खेलने से पहले प्रथम श्रेणी क्रिकेट में रन नहीं बनाए हैं।”

रोजर बिन्नी ने कहा कि उन्हें एक बार भारतीय ऑलराउंडर मान लिया,लेकिन वो अपने प्रभाव को बरकरार रखने में नाकामयाब रहें। हालांकि बिन्नी का मानना है कि पांड्या ने टी-20 क्रिकेट में अच्छा प्रदर्शन किया लेकिन टेस्ट क्रिकेट इससे काफी अलग है।

हार्दिक को बड़ौदा टीम वापस जाना चाहिए

sh4

पूर्व ऑलराउंडर ने जमकर अलोचना करते हुए कहा कि “पांड्या को घरेलू क्रिकेट में खेलने के लिए फिर से वापस जाना चाहिए। पांड्या को नए सिरे से बड़ौदा के लिए खेलना चाहिए और शीर्ष क्रम में रन बनाना होगा। ताकि टेस्ट क्रिकेट में शामिल होकर भारतीय टीम के लिए अच्छा प्रदर्शन कर सके।”

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *