Rod Marsh

ऑस्ट्रेलिया (Australian Cricket Team) के पूर्व दिग्गज विकेटकीपर बल्लेबाज रॉड मार्श (Rod Marsh) को बीमार पड़ने पर अस्पताल में भर्ती करवाया गया है. दरअसल उन्हें हार्ट अटैक आया है. वे क्वींसलैंड के अस्पताल में भर्ती हैं जहां उनका इलाज जारी है. 74 वर्षीय यस दिग्गज खिलाड़ी बुल्स मास्टर्स चैरिटी ग्रुप के एक कार्यक्रम के लिए बुंडाबर्ग पहुंचे थे. जहां उन्हें यह अटैक आया. जिसके बाद बुल्स मास्टर्स (Bulls Masters) के आयोजकों जॉन ग्लेनविल (Jon Glenvil) और डेविड हिलियर (David Hiliyar) ने उन्हें अस्पताल पहुंचाया.

ऑस्ट्रेलियन क्रिकेटर्स एसोसिएशन ने जताई चिंता

रॉड मार्श (Rod Marsh) के बीमार होने की खबर मिलने के बाद से उनके स्वास्थ्य में सुधार के लिए कई जगहों पर कामना की जा रही है. इसी कड़ी में ऑस्ट्रेलियन क्रिकेटर्स एसोसिएशन ने भी रॉड मार्श पर बयान जारी किया. क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (Cricket Australia) के चीफ एग्जीक्यूटिव निक हॉकले (Nick Hockley) ने भी उनके स्वास्थ्य को लेकर चिंता जताते हुए उन्हें शुभकामनाएं दी है. साथ ही उन्हें ऑस्ट्रेलियन क्रिकेट का आयकॉनिक चेहरा बताते हुए उनका ख़याल रखने वाले सभी लोगों का शुक्रिया अदा किया है. अस्ट्रेलियन क्रिकेटर्स एसोसिएशन ने अपने बयान में कहा,

क्रिकेट से जुड़े सभी लोग उनके बारे में चिंतित हैं और रॉड मार्श (Rod Marsh) को आज सुबह गंभीर हार्ट अटैक आया और अस्पताल में भर्ती हैं. रॉड ऑस्ट्रेलियन क्रिकेट के प्रभावशाली शख्सियत हैं और करीब 50 साल से इसे आगे बढाने मे हमारी मदद कर रहे हैं,. उनके कई साथी उनके साथ मौजूद हैं. जल्द ही उनका परिवार उनके साथ होगा.

बुल्स मास्टर्स के आयोजक ने बतायी पूरी कहानी

Rod Marsh

रोड मार्श (Rod Marsh) की जान बचाने में बुल्स मास्टर्स के आयोजकों जॉन और डेविड का बहोत बड़ा योगदान रहा. बुल्स मास्टर्स के ही एक और आयोजक जिम्मी माहेर (Jimmy Maher) ने न्यूज कॉर्प को बताया की जॉन और डेव को काफी क्रेडिट जाता है क्योंकि डॉक्टर्स ने बताया कि यदि उन्होंने एम्बुलेंस का इंतजार किया होता तो वह शायद हम उन्हें बचा नहीं पाते. उन्होंने अपने बयान में कहा,

रॉड मार्श सुबह 10.05 बजे पहुंचे थे और उन्होंने कार से मुझे फोन किया था. उन्होंने कहा कि उन्हें मेरे साथ बीयर पीने का इंतजार है. फिर तुरंत ही डेव का फोन आया और उन्होंने बताया कि क्या हुआ. यह काफी बुरा था

मार्श (Rod Marsh) ने साल साल 1970 से 1984 के बीच 96 टेस्ट मैचों में ऑस्ट्रेलियन टीम का प्रतिनिधित्व किया. जिसमें उन्होंने विकेट के पीछे 355 शिकार किए. वह ऑस्ट्रेलिया की पुरुष क्रिकेट टीम के सिलेक्टर भी रहे हैं. 2016 में उन्होंने अपने इस पद से इस्तीफा दे दिया.