Rishabh Pant

Rishabh Pant: भारतीय क्रिकेटर और दिल्ली कपिटल्स के कप्तान ऋषभ पंत  (Rishabh Pant) और उनके मैनेजर ने हरियाणा के क्रिकेटर मृणाक सिंह के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया है। उन्होंने अपनी शिकायत में कहा गया है कि मृणांक सिंह ने उससे झूठ बोला कि वह सस्ते दामों पर लग्जरी घड़ियां खरीद सकता है। पंत ने घड़ियों की कीमत के बारे में भी जानकारी दी उन्होंने बताया कि घड़ियों की कीमत 1.6 करोड़ रुपये से भी ज्यादा की थी। आइए जानते हैं कि क्या है ये पूरा मजरा….

Rishabh Pant को हरियाणा ने लगाया करोड़ों का चूना

Rishabh Pant

दरअसल साकेत कोर्ट ने पिछले हफ्ते मुंबई की आर्थर रोड जेल को मृंक सिंह को पेश करने के लिए नोटिस जारी किया था। जिसके बाद ये बात सामने आई की दिल्ली कैपिटल्स के कप्तान और टीम इंडिया के विकेटकीपर को भी मृणांक ने उन्हे भी ठगा है। मृणांक सिंह पेशे से एक क्रिकेटर हैं।

पंत फ्रैंक मुलर वैनगार्ड याचिंग सीरीज से एक घड़ी खरीदना चाहते थे और उन्होंने एक घड़ी के लिए 36,25,120 रुपये का भुगतान किया। इसके अलावा उन्होंने रिचर्ड मिल की एक घड़ी के लिए 62,60,000 रुपये और दिए। मिड-डे की एक रिपोर्ट के मुताबिक, पंत ने अपनी शिकायत में कहा है कि उन्हें मृणांक सिंह ने धोखा दिया और झूठे वादे किए। शिकायत में घड़ियों की कीमत के बारे में भी जानकारी दी गई है।

‘जनवरी 2021 में, मृणांक ने पंत और मैनेजर सोलंकी को बताया कि उसने लग्जरी घड़ियां, बैग, आभूषण आदि खरीदने और बेचने का व्यवसाय शुरू किया है। उसने कई क्रिकेटरों के संदर्भ दिए जिनके बारे में उन्होंने दावा किया था कि उन्हें भी सामान बेचा गया है। उसने पंत और मैनेजर को झूठे वादे किए कि वह उनके लिए अच्छी छूट और बहुत सस्ते दामों पर लग्जरी घड़ियां और अन्य सामान खरीद सकता है। ’

Rishabh Pant ने सिंह को दिए थे करोड़ों रुपये

Rishabh Pant

मृणांक सिंह की झूठी कहानी पर भरोसा करते हुए, पंत ने  पंत ने फरवरी 2021 में आरोपी को एक लग्जरी घड़ी और कुछ आभूषण आइटम दिए, जो उसके द्वारा 65,70,731 रुपये में खरीदे गए थे। खबरें हैं कि  एक फिल्म निर्देशक और कई होटलों को 23 वर्षीय मृणांक सिंह ने फर्जी संदर्भ देकर ठगा। बता दें कि आइपीएल 2022 में ऋषभ पंत (Rishabh Pant) दिल्ली कैपिटल्स की अगुवाई करते हुए नज़र आए थे। उनकी अगुवाई मे टीम का प्रदर्शन कुछ ख़ास नही रहा। सीज़न के खेले गये 14 मुक़ाबलों में से दिल्ली ने 7 जीते और 7 हारे। टीम एक अंक से प्लेऑफ़ में जाने से चूक गई।